कोरोना से मरने वाले स्टाफ के परिजनों को टाटा स्टील सेवाकाल तक का देगी वेतन, बच्चों के पढ़ाई का भी उठायेगी पूरा खर्च

रांची: देश की निजी क्षेत्र की टाटा स्टील कंपनी ने अपने कर्मचारियों के लिए बहुत बड़ा फैसला लिया है।

टाटा स्टील कंपनी कोरोना से मरनेवाले कर्मियों के परिजनों को उनके सेवानिवृत्त होने तक का अंतिम वेतन का भुगतान करेगी।

अधिकारिक सूत्रों ने सोमवार को बताया कि यदि किसी कर्मचारी की कोविड-19 के कारण मौत हो जाती है, तो उनके आश्रितों को कंपनी सामाजिक सुरक्षा के लाभ के तहत उक्त सुविधा प्रदान करेगी।

इसके अलावा मृत कर्मियों के बच्चों के स्नातक तक की पढ़ाई का पूरा खर्च भी कंपनी उठायेगी।

टाटा स्टील कंपनी ने इससे संबंधित आदेश जारी कर दिया है। कंपनी के इस निर्णय की टाटा स्टील कर्मियों ने सराहना की है।

उल्लेखनीय है कि कोविड-19 की दूसरी लहर में भी टाटा स्टील कंपनी के कर्मचारी लगातार अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते हुए उत्पादन सुचारू रूप से रखे हुए हैं।

ड्यूटी के दौरान कई कर्मचारी न सिर्फ कोरोना संक्रमित हुए हैं, बल्कि कई कर्मियों की मौत भी हो चुकी है।

इसे देखते हुए टाटा स्टील कंपनी ने सामाजिक सुरक्षा का लाभ अपने कर्मचारियों को देने का निर्णय लिया है।

इसके तहत मृत कर्मियों के आश्रितों को उनकी सेवानिवृत्ति की आयु (60 ) तक का बेसिक वेतन भुगतान किया जायेगा।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button