झारखंड

सातवें चरण के चुनाव के तहत एक जून को वोटिंग के दौरान सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम, CEO ने…

झारखंड के गोड्डा, राजमहल और दुमका लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों में आज शाम प्रचार (Publicity) थम गया। चुनाव प्रचार आदि कार्यों को लेकर बाहर से उस क्षेत्र में गये लोगों का वहां से निकलना भी शुरू हो चुका है।

Chief Electoral Officer K. Ravi Kumar: झारखंड के गोड्डा, राजमहल और दुमका लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों में आज शाम प्रचार (Publicity) थम गया। चुनाव प्रचार आदि कार्यों को लेकर बाहर से उस क्षेत्र में गये लोगों का वहां से निकलना भी शुरू हो चुका है।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी K. Ravi Kumar ने गुरुवार को निर्वाचन सदन धुर्वा में प्रेस वार्ता के दौरान बताया कि सातवें चरण के चुनाव के तहत एक जून को निष्पक्ष और भयमुक्त मतदान के लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गये हैं। किसी भी अनहोनी से निपटने के लिए Bike सवार क्विक रिस्पांस टीम की भी तैनाती की गयी है।

पूर्व में कुछ क्षेत्रों में नक्सली गतिविधि थी लेकिन वर्तमान में इलाके में नक्सली गतिविधि का कोई खुफिया इनपुट नहीं है। दुमका के तीन बूथों को बदला गया है।

मतदानकर्मी शुक्रवार को मतदान केंद्रों के लिए रवाना होंगे और शनिवार को मतदान (VOTE) के बाद सभी मतदानकर्मी लौट जाएंगे। उन्होंने अपील करते हुए कहा कि इस बार दिनभर मतदान होगा, इसलिए सभी मतदाता मतदान जरूर करें।

उन्होंने बताया कि तीन संसदीय निर्वाचन क्षेत्र गोड्डा, राजमहल और दुमका में कुल मतदाताओं की संख्या 53,23,886 है। उनमें 27,00,538 पुरुष, 26,23,315 महिला और 33 ट्रांसजेंडर मतदाता हैं।

कुल बूथों की संख्या 6258 है। इनमें से 489 बूथ शहरी इलाके में और 5769 बूथ ग्रामीण क्षेत्र में हैं। 241 बूथों की कमान महिलाओं के हाथों में होगी जबकि 7 बूथों पर दिव्यांग और 11 पर मतदान की सारी व्यवस्था युवा संभालेंगे। 18 बूथ यूनिक हैं।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने बताया कि राजमहल (अनुसूचित जनजाति के लिए सुरक्षित) संसदीय निर्वाचन क्षेत्र में कुल 17,04,671 मतदाता एक जून को मतदान में हिस्सा लेंगे।

इनमें 8,51,165 पुरुष, 8,53,496 महिला और 10 थर्ड जेंडर के मतदाता हैं। इस संसदीय निर्वाचन क्षेत्र में कुल 2020 मतदान केंद्र हैं। इनमें से 127 शहरी क्षेत्र में और 1893 बूथ ग्रामीण क्षेत्र में हैं।

इस निर्वाचन क्षेत्र में 166 मतदान केंद्र (Polling Booth) पूरी तरह महिलाओं द्वारा संचालित होंगे। इसी तरह 3 बूथ दिव्यांगों द्वारा और 6 बूथ युवाओं द्वारा संचालित किये जाएंगे। यहां के 5 बूथ यूनिक कैटेगरी में हैं।

दुमका (अनुसूचित जनजाति के लिए सुरक्षित) संसदीय निर्वाचन क्षेत्र में कुल 15,91,061 मतदाता मतदान में हिस्सा लेंगे। इनमें 7,99,045 पुरुष, 7,92,010 महिला और 6 थर्ड जेंडर के मतदाता हैं। इस संसदीय निर्वाचन क्षेत्र में कुल 1891 मतदान केंद्र हैं। इनमें से 105 शहरी क्षेत्र में और 1786 बूथ ग्रामीण क्षेत्र में हैं।

इस निर्वाचन क्षेत्र में 70 मतदान केंद्र पूरी तरह महिलाओं के द्वारा संचालित होंगे। इसी तरह 1 बूथ दिव्यांगों द्वारा और 3 बूथ युवाओं द्वारा संचालित किये जाएंगे। यहां के 11 बूथ यूनिक कैटेगरी में हैं।

गोड्डा संसदीय निर्वाचन क्षेत्र में कुल 20,28,154 मतदाता मतदान में हिस्सा लेंगे। इनमें 10,50,328 पुरुष, 9,77,809 महिला और 17 थर्ड जेंडर के मतदाता हैं। इस संसदीय निर्वाचन क्षेत्र में कुल 2347 मतदान केंद्र हैं। इनमें से 257 शहरी क्षेत्र में और 2090 बूथ ग्रामीण क्षेत्र में हैं।

इस निर्वाचन क्षेत्र में पांच Polling Booth पूरी तरह महिलाओं द्वारा संचालित होंगे। इसी तरह तीन बूथ दिव्यांगों द्वारा और दो Booth युवाओं द्वारा संचालित किये जाएंगे। यहां के दो बूथ यूनिक कैटेगरी में हैं।

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker