झारखंड

जमशेदपुर के Tata Steel प्लांट में ब्लास्ट, दो घायल

ब्लास्ट इतना जोरदार था कि आरएमएम, सिंटर प्लांट वन और टू में भगदड़ मच गई।

News groupe Whatsapp

जमशेदपुर: जमशेदपुर के टाटा स्टील (Tata Steel) कोक प्लांट में शनिवार पूर्वाह्न 10:20 बजे जोरदार धमाका हुआ।

धमाके में दो ठेकाकर्मी घायल हो गए, जबकि टाटा स्टील का एक कर्मचारी बेहोश हो गया।

तीनों को एमजीएम अस्पताल में भर्ती कराया गया है। टाटा कॉरपोरेट कम्युनिकेशन ने खबर की पुष्टि की है।

बताया गया है कि जमशेदपुर प्लांट में अचानक आग लग गई। कंपनी के कोक प्लांट के बैटरी नंबर छह में यह हादसा हुआ।

इसमें गैस रिसाव होने लगा। घटना के बाद पूरे एरिया में अफरा-तफरी मच गई। इसमें दो ठेका कर्मचारी जख्मी हुए हैं।

ब्लास्ट इतना जोरदार था कि आरएमएम, सिंटर प्लांट वन और टू में भगदड़ मच गई। सारे कर्मचारियों को आपात हालात में बाहर निकाला गया।

इसके बाद कर्मचारियों को सुरक्षित स्थान पर ले जाया गया। आसपास के परिसर को खाली करा दिया गया। प्लांट में आग लग गई थी।

गैस रिसाव को रोकने का प्रयास चल रहा है। इस घटना के बाद कंपनी के अधिकारी मौके वारदात पर पहुंच चुके हैं।

घटना की उच्चस्तरीय जांच शुरू कर दी गई है। फिलहाल प्लांट में फिर से प्रोडक्शन तत्काल शुरू की जाए, इसके लिए भी कोशिशें शुरू की गई है। प्लांट के बैटरी संख्या 6 में आई खराबी का असर दूसरी बैटरी पर हुआ।

तीन साल पहले भी धमाके के साथ गैस का रिसाव हुआ था

कंपनी परिसर में विस्फोट की आवाज साकची, काशीडीह, एग्रीको समेत गोलमुरी, बर्मामाइंस और बारीडीह जैसे इलाके में सुनी गई।

कुछ देर के लिए शहर के लोग दहशत में आ गए और सहम गए। साकची और बर्मामाइंस क्षेत्र में लोगों की भीड़ लग गई।

इस विस्फोट से आसमान में आग और धुंआ निकलने लगा। कंपनी प्रबंधन की ओर से कहा गया है कि हालात को पूरी तरह नियंत्रित कर लिया गया है।

उल्लेखनीय है कि तीन साल पहले भी टाटा स्टील के एच ब्लास्ट फर्नेस में जोरदार धमाके के साथ गैस का रिसाव हुआ था और आग लग गई थी।