सरकार ने घोषणा पत्र पर अमल नहीं किया: अमर बाउरी

News Desk

 

The government did not implement the manifesto: झारखंड विधानसभा के अध्यक्ष Rabindra Nath Mahato ने 11 बजकर 10 मिनट पर विशेष सत्र की कार्यवाही शुरू की।

इसके बाद मुख्यमंत्री (CM) हेमंत सोरेन सदन में विश्वास मत प्रस्ताव पेश किया। इससे पहले पहले गांडेय विधायक और मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की पत्नी कल्पना सोरेन (Kalpana soren) ने वरिष्ठों के

पैर छूकर आशीर्वाद लिये। कल्पना सोरेन ने लोबिन, डॉ रामेश्वर उरांव, सविता महतो और चंपाई सोरेन (Champai Soren) के भी पैर छुए।

सदन में नेता प्रतिपक्ष Amar Kumar Bauri ने कहा कि इस सरकार का गठन ही लूट की सोच के आधार पर हुआ। फिर से Hemant soren ठगने आ रहे हैं।

हेमंत सरकार ने हर साल पांच लाख नौकरी देना का वादा किया था। सात हजार रुपये प्रति माह बेरोजगारी भत्ता देने की भी बात कही थी। लेकिन सरकार ने घोषणा पत्र पर अमल नहीं किया।

उन्हाेंने कहा कि चार महीने से पेंशन नहीं मिल रहा है। 11 महीने से राशन नहीं मिल रहा है। सहायक पुलिसकर्मी को स्थायी करने का वादा पूरा नहीं हुआ। कल जहां मुख्यमंत्री (CM) पूजा कर रहे थे, वहां से चंद मीटर की दूरी में एक पूर्व पार्षद को गोली मार दी जाती है।

झारखंड में ऐसी है लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति। उन्हाेंने कहा कि बंगालदेशी घुसपैठ को लेकर हाई कोर्ट ने भी कह दिया कि डोमेग्राफी बदल दी है। यह सरकार देश में सबसे भ्रष्ट सरकार है। इसके एक मंत्री जेल में है।

हमें Follow करें!