झारखंड : विधिक जागरूकता शिविर में दी गई कानून की जानकारी

खूंटी: अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस के मौके पर जिला विधिक सेवा के अध्यक्ष और प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश सत्य प्रकाश के निर्देश पर डालसा द्वारा राजकीय जनजाति स्कूल कुंदी और उपकारा खूंटी उपकारा में शुक्रवार को विधिक जागरुकता शिविर का आयोजन किया गया।

शिविर में लोगों को कानून की जानकारी दी गई।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए डालसा के सचिव मनोरंजनक कुमार ने कहा कि सुयुक्त राष्ट्र संघ ने 10 दिसंबर 1948 को मानवाधिकार दिवस घोषित किया था।

उसके बाद हर साल 10 दिसंबर को अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस मनाया जाता है। उन्होंने कहा कि मानवाधिकार दिवस मनाने का उद्देश्य लोगों को मनावाधिकारों के प्रति जागरूक करना और उसके प्रति सजग रहने का संदेश दिना है।

उपकारा में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए डालसा सचिव ने कहा कि हमारा मौलिक अधिकार के साथ मौलिक कर्तव्य भी हैं। हम सभी नागरिकों को इसका पालन करना चाहिए।

कार्यक्रम में अधिवक्ता मिलन कुमार दास और मुकुल कुमार पाठक के अलावा पीएलवी चंदन कुमार, देवराज कुमार भगत, शांति नाग सहित अन्य उपस्थित थे।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button