“जेल में दिया गया जहर, वक्त आने पर दिखाएंगे पुख्ता सबूत” मुख्तार अंसारी के भाई का दावा

Digital Desk

Mukhtar Ansari Death : गैंगस्टर मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) को शनिवार को सुपुर्द-ए-खाक किया गया। मुख्तार अंसारी के मौत के बाद से ही लगातार परिजन दावा कर रहे हैं कि मुख्तार की मौत जेल में दिए गए जहर (Poison) की वजह हुई है।

मुख्तार के भाई सांसद अफजाल अंसारी (Afjal Ansari) ने भी कुछ चौंकाने वाले दावे किए हैं। उन्होंने कहा कि मुख्तार अंसारी को मार कर रास्ते से हटाया गया है।

सही वक्त आने पर हम इस बात का पुख्ता सुबूत (Proof) देंगे कि मुख्तार को जेल में जहर देकर मारा गया है। कुछ अपराधियों को बचाने के लिए पूरी सरकार और उसकी मशीनरी ने बहुत बड़ी साजिश रची है।

बेहद दर्द में थे मुख्तार अंसारी

अफजाल अंसारी ने कहा कि उन्हें कोई शर्म नहीं है, 26 मार्च को मुख्तार को बांदा जेल (Banda Jail) से मेडिकल कॉलेज भेजा गया था। पुलिस ने कहा कि उन्हें इसलिए भेजा गया क्योंकि डॉक्टरों ने सुझाव दिया था।

जब हम अस्पताल पहुंचे तो हमें बड़ी मुश्किल से सिर्फ 5 मिनट के लिए मिलने दिया गया। इस दौरान मुख्तार ने कहा कि उनको जहर दिया गया था और इस वजह से वह बेहोश हो गए थे। मुख्तार ने बताया था कि वह बेहद दर्द में हैं।

जनाजे के दौरान DM से भी उलझे अफजाल अंसारी

मुख्तार अंसारी के जनाजे के दौरान बड़ी तादाद में समर्थकों की भीड़ आई थी, जो मिट्टी देने के लिए कब्रिस्तान के अंदर जाना चाह रही थी।

दूसरी तरफ पुलिस प्रशासन ने सिर्फ परिवार के लोगों को ही कब्रिस्तान के अंदर जाने की छूट दे रखी थी। जब गाजीपुर की DM आर्यका अखोरी ने अफजाल अंसारी से अंदर जाने वाले लोगों पर बात की तो तीखी बहस हो गई।

इस दौरान अफजाल अंसारी बेहद गुस्से में नजर आए। अफजाल ने कहा कि अगर दूसरे लोग भी मुख्तार के सुपुर्द-ए-खाक में शामिल होना चाहते हैं, तो उन्हें कोई नहीं रोक सकता। इस पर DM आर्यका अखोरी ने कहा कि मैं डीएम हूं, इसके लिए इजाजत नहीं ली गई है।

मिट्टी देने के लिए अनुमति की जरूरत नहीं – अफजाल

अफजाल अंसारी ने जवाब देते हुए कहा कि आप चाहे कुछ भी हों, धार्मिक प्रयोजन के लिए या किसी को मिट्टी देने के लिए अनुमति की जरूरत नहीं होती है।

इस पर DM ने कहा कि जरूरत होती है क्योंकि यहां धारा 144 लगी हुई है। आप सिर्फ परिवार के लोगों को लेकर अंदर जाइए। इसके बाद अफजाल अंसारी ने जवाब देते हुए कहा कि जो भी मिट्टी देना चाहता है वो दे सकता है, उसे कोई नहीं रोक सकता।

DM ने फिर जवाब दिया और कहा कि, ‘ठीक है, सभी की Video हो रही है, हम आप सभी के खिलाफ उचित कार्रवाई करेंगे।’

वहीं इस घटना को लेकर गाजीपुर के SSP ओमवीर सिंह ने कहा, मुख्तार के परिजन मिट्टी डाल रहे थे, बीच में गलियों से लोग आ गए थे, उनकी पहचान की जा रही है।

हमें Follow करें!