तीन साल बाद पाकिस्तान से भारत लौटा बारेलाल

दमोह: दमोह के शीशपुर पटी गांव के बारेलाल तीन साल पहले भटक कर पाकिस्तान पहुंच गया था।

मानसिक रूप से कमजोर बारेलाल आदिवासी गांव से लापता हो गया था। नोहटा थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट भी दर्ज कराई थी।

इसके बाद से बारेलाल की तलाश जारी थी। आखिरकार बारेलाल के पाकिस्तान में होने की खबर आई।

प्रदेश शासन ने केंद्रीय शासन से कहा और केंद्र शासन के प्रयासों के बाद तीन साल बाद बारेलाल अपने घर पहुंचा।

बारेलाल के घर पहुंचते ही उसके घर में और गांव में खुशी की लहर है।

मानसिक रूप से कमजोर होने की वजह से बारेलाल स्पष्ट तौर पर कुछ नहीं बता पा रहा है।

सिर्फ इतना कह रहा है कि ट्रेन में बैठकर पाकिस्तान पहुंच गया था और एक कंपनी ने उसे पुलिस तक पहुंचाया।

पाकिस्तान में लंबा समय गुजारने के बाद पाकिस्तानी सैनिकों ने उसे बाघा बॉर्डर के जरिए भारत के हवाले किया।

इसके बाद दमोह पुलिस ने अमृतसर रेड क्रॉस से उसे लिया और उनके परिजनों के सुपुर्द कर दिया।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button