भारत

EVM मशीन को लेकर देश में एक बार फिर बहस शुरू, एलन मस्क के पोस्ट के बाद…

Debate Regarding EVM Machines : X सोशल मीडिया के मालिक के एक Tweet और एक समाचार ने रविवार को एक बार फिर Internet पर EVM मशीन पर बहस शुरू कर दी है।

नतीजों के बाद अस्थायी तौर पर मुद्दों की दौड़ में पीछे जाने के बाद EVM फिर से मुद्दा बनकर आगे आ गया है।

सोशल मीडिया X सहित अनेक नामचीन कंपनियों के मालिक एलोन मस्क ने एक्स पर एक Tweet किया, जिसमें उन्होंने कहा कि हमें EVM को पूरी तरह से हटा देना चाहिए। इसे मानव या AI द्वारा हैक किए जाने की थोड़ी संभवना भी बहुत ज्यादा है। उनका यह बयान स्थानीय संदर्भों में था, लेकिन यह सोशल मीडिया पर बहस का कारण बन गया है।

पूर्व केन्द्रीय मंत्री राजीव चन्द्रशेखर ने कहा कि यह सामान्य सा कथन है कि कोई भी सुरक्षित Digital Hardware नहीं बना सकता है और यह गलत है। एलोन मस्क का विचार अमेरिका और अन्य स्थानों पर लागू हो सकता है- जहां वे इंटरनेट से जुड़ी वोटिंग मशीनें बनाने के लिए नियमित Compute Platform का उपयोग करते हैं।

लेकिन भारतीय EVM कस्टम डिज़ाइन, सुरक्षित और किसी भी नेटवर्क या मीडिया से अलग हैं। कोई Connectivity नहीं, कोई ब्लूटूथ, वाईफाई, इंटरनेट नहीं।

यानी इसमें कोई रास्ता नहीं है। Factory Program किए गए नियंत्रक जिन्हें दोबारा प्रोग्राम नहीं किया जा सकता है। Electronic Voting मशीनों को ठीक वैसे ही तैयार और निर्मित किया जा सकता है, जैसा कि भारत ने किया है। हमें एलोन के लिए Tutorial चलाने में खुशी होगी।

एक अन्य समाचार सामने आया है, जिसने EVM पर सवाल खड़े करने की कोशिश की है। खबर महाराष्ट्र से है कि यहां मुंबई उत्तर पश्चिम लोकसभा सीट से 48 वोटों से जीतने वाले शिवसेना के रवींद्र वायकर के रिश्तेदार का फोन EVM से जुड़ा था।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने Elon Musk का ट्वीट और उक्त खबर को साझा करते हुए कहा कि भारत में EVM एक “Black Box” हैं और किसी को भी उनकी जांच करने की अनुमति नहीं है।

हमारी चुनावी प्रक्रिया में पारदर्शिता को लेकर गंभीर चिंताएं व्यक्त की जा रही हैं। जब संस्थानों में जवाबदेही की कमी हो जाती है तो लोकतंत्र एक दिखावा बन जाता है और धोखाधड़ी का शिकार हो जाता है।

Leave a Reply

x