नीति आयोग के प्रतिनियुक्त सेंट्रल एवं स्टेट प्रभारी पदाधिकारियों ने किया रामगढ़ का दौरा

रामगढ़: नीति आयोग के रामगढ़ आकांक्षी जिले के लिए प्रतिनियुक्त किए गए सेंट्रल प्रभारी पदाधिकारी चंद्रशेखर भारती एवं राज्य प्रभारी पदाधिकारी मनीष रंजन के द्वारा गुरुवार को जिले का दौरा किया गया।

इस दौरान सबसे पूर्व सेंट्रल एवं स्टेट प्रभारी पदाधिकारी के द्वारा समाहरणालय सभागार में उपायुक्त सहित जिले के अन्य वरीय अधिकारियों के साथ बैठक की गई।

संविधान दिवस के अवसर पर बैठक में मौजूद सभी अधिकारियों एवं अन्य के द्वारा संविधान की प्रस्तावना का पठन किया गया।

बैठक के दौरान एडीएफ सुभ्रा सेन एवं सैनी कुमार के द्वारा जिला अंतर्गत अलग-अलग योजनाओं के प्रति हो रहे कार्य से संबंधित पीपीटी सेंट्रल एवं स्टेट प्रभारी के समक्ष प्रस्तुत की गई।

इस दौरान उपायुक्त संदीप सिंह द्वारा विभाग वार अलग-अलग योजनाओं के प्रति हुए कार्यों के संबंध में अधिकारियों को जानकारी दी गई।

बैठक के दौरान मुख्य रूप से स्वास्थ्य, समाज कल्याण, शिक्षा, कृषि, मत्स्य आदि से संबंधित योजनाओं के प्रति हुए कार्यों पर विस्तार से चर्चा की गई।

उपायुक्त द्वारा अधिकारियों को कोरोना काल के दौरान जिला प्रशासन द्वारा बच्चों की शिक्षा के लिए शुरू की गई लॉकडाउन ई पाठशाला सहित अन्य पहलो के बारे में जानकारी दी गई।

बैठक के दौरान सेंट्रल एवं स्टेट प्रभारी के द्वारा रामगढ़ आकांक्षी जिले में कार्यरत एडीएफ सुभ्रा सेन एवं सैनी कुमार को अलग-अलग परियोजनाओं एवं हो रहे कार्यों से संबंधित प्रतिवेदन नियमित अंतराल पर उन्हें भेजने की बात कही।

बैठक के उपरांत सेंट्रल प्रभारी चंद्रशेखर भारती के द्वारा रामगढ़ जिला अंतर्गत विभिन्न क्षेत्रों में हो रहे विकास कार्यों का निरीक्षण किया गया।

इस दौरान उन्होंने सबसे पूर्व रामगढ़ प्रखंड अंतर्गत मुर्रामकला पंचायत के नायक टोला में आंगनबाड़ी केंद्र का निरीक्षण किया।

इस दौरान उन्होंने मॉडल आंगनबाड़ी के रूप में निर्मित आंगनबाड़ी में मौजूद तमाम तरह की सुविधाओं की जानकारी ली।

इस दौरान उन्होंने आंगनवाड़ी सेविका एवं सहायिका से उनके द्वारा किए जा रहे कार्यों के संबंध में गहन चर्चा की।

मुर्रामकला स्थित आंगनबाड़ी के बाद सेंट्रल प्रभारी के द्वारा पतरातू प्रखंड अंतर्गत चैंनगड्डा स्थित आंगनबाड़ी केंद्र का निरीक्षण किया गया।

इस दौरान उनके द्वारा आंगनबाड़ी केंद्र में बनाए गए न्यूट्री गार्डन एवं इसके महत्व के संबंध में आंगनबाड़ी सेविकाओं से जानकारी ली गई।

इसके बाद सेंट्रल प्रभारी के द्वारा भुरकुंडा स्थित वॉटर फिल्ट्रेशन यूनिट का निरीक्षण किया गया।

इस दौरान उन्होंने फिल्ट्रेशन यूनिट के माध्यम से कितने लोगों को जल का लाभ मिल रहा है। इसकी विस्तार से जानकारी ली।

इसके साथ ही उन्होंने फिल्ट्रेशन हेतु निर्धारित प्रक्रिया की भी जानकारी ली।

इस दौरान मौजूद अधिकारियों के द्वारा उन्हें बताया गया कि इस योजना के तहत कुल 27379 लोगों को जल का लाभ मिल रहा है।

इस योजना के माध्यम से 5744 घरों में पानी पहुंच चुका है एवं इसे और घरों तक पहुंचाने के लिए कार्य किया जा रहा है।

सेंट्रल प्रभारी के द्वारा पतरातू डैम का भी निरीक्षण किया गया। इस दौरान उन्होंने पतरातू डैम अंतर्गत मत्स्य पालन एवं पर्यटन के क्षेत्र में हो रहे कार्यों की जानकारी ली।

इन सबके अलावा सेंटर प्रभारी के द्वारा जिला अंतर्गत कई अन्य क्षेत्रों का भी निरीक्षण किया गया।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button