विदेश

Dollar के मुकाबले अब तक के सबसे निचले स्तर पर पहुंचा पाकिस्तानी रुपया

0.60 रुपये की गिरावट के साथ अब तक के सबसे निचले स्तर 188.66 रुपये पर आ गई पाकिस्तानी मुद्रा

News groupe Whatsapp

कराची: अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) ऋण कार्यक्रम को फिर से शुरू करने को लेकर अनिश्चितता के बीच पाकिस्तानी मुद्रा मंगलवार को इंटरबैंक बाजार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 0.60 रुपये की गिरावट के साथ अब तक के सबसे निचले स्तर 188.66 रुपये पर आ गई है।

जियो न्यूज की रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है। रिपोर्ट के अनुसार, स्थानीय मुद्रा ने अपने 7 अप्रैल के रिकॉर्ड निचले स्तर 188.18 रुपये को पार कर लिया है।

रिकॉर्ड निचले स्तर 188.18 रुपये  पार

करेंसी डीलरों का मानना है कि आईएमएफ कार्यक्रम में देरी, मित्र देशों से तत्काल वित्तीय सहायता की कमी, विदेशी मुद्रा भंडार में कमी और बढ़ते व्यापारिक घाटे ने घरेलू मुद्रा पर दबाव बनाए रखा है।

ईंधन और बिजली पर सब्सिडी को हटाने के लिए नई सरकार की अनिच्छा – जो आईएमएफ कार्यक्रम के पुनरुद्धार के लिए पूर्व-शर्तें हैं – ने निवेशकों की भावना को कम कर दिया है।इसके अलावा, निवेशक गिरते विदेशी मुद्रा भंडार के बारे में चिंतित हैं।

इसका कारण यह है कि प्रेषण और निर्यात आय बाजार की मांग को पूरा करने के लिए पर्याप्त नहीं है और यही हालत बढ़ते विदेशी ऋण भुगतान और बढ़ते आयात को लेकर भी हैं।

जियो न्यूज ने बताया कि इन्हीं सब कारणों से रुपये पर दबाव पड़ रहा है।सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात और चीन से वित्तीय सहायता पर भी अस्पष्टता है।

पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की उस घोषणा के बाद से राजनीतिक तापमान भी बढ़ रहा है, जिसमें उन्होंने चेताया है कि वह नए चुनावों की मांग के लिए 20 मई के बाद अपने समर्थकों के साथ इस्लामाबाद की ओर से बड़ा मार्च करेंगे।