RJD सुप्रीमो लालू के खिलाफ सालों पुराने मामले में स्थायी अरेस्ट वारंट जारी,अब…

Digital Desk

Lalu Yadav Arrest Warrant : जनता दल (RJD) सुप्रीमो लालू प्रसाद (Lalu Prasad) की मुश्किलें लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) के बीच गंभीर होती दिख रही हैं।

जानकारी मिल रही है कि मध्य प्रदेश (MP) के ग्वालियर में MP-MLA कोर्ट ने सालों पुराने एक मामले में उनके खिलाफ स्थायी अरेस्ट वारंट (Permanent Arrest Warrant) जारी किया है।

यह मामला आर्म्स एक्ट (Arms Act) से जुड़ा हुआ है, जिसमें लालू यादव को फरार घोषित किया गया था।

बिहार के 23 लोग हैं आरोपी

ग्वालियर (Gwalior) जिला न्यायालय के SDPO अभिषेक मल्होत्रा ने बताया कि MP-MLA ग्वालियर जिला मजिस्ट्रेट ने बिहार (Bihar) के पूर्व सीएम लालू प्रसाद यादव के खिलाफ वर्ष 1995-97 के एक मामले में स्थायी गिरफ्तारी वारंट जारी किया है, जिसमें अवैध फर्जी दस्तावेजों (Illegal Fake Documents) के जरिए हथियार (Weapon) खरीदे गए और हथियारों की आगे सप्लाई की गई।

इस मामले में उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और बिहार के 23 लोग आरोपी हैं। इसमें बिहार के पूर्व CM और पूर्व केंद्रीय मंत्री लालू यादव का भी नाम शामिल है।

29 साल पुराना है मामला

बताया जाता है कि यह मामला साल 1995 – 1997 का है। पुलिस जांच में पता चला था कि फर्जी दस्तावेजों के जरिए तीन फर्मों से हथियार और कारतूस खरीदे गए थे।

इस मामले में लालू यादव समेत 23 आरोपियों के नाम शामिल हैं। इनमें से 6 के खिलाफ मुकदमा चल रहा है, दो की मौत हो चुकी है। 14 फरार हैं।

पुलिस ने इस मामले में जुलाई 1998 में आरोप पत्र दायर किया था। लालू यादव के खिलाफ मामला एमपी-एमएलए अदालत में स्थानांतरित कर दिया गया था।

जब अदालत आश्वस्त हो गई कि दस्तावेज में उल्लिखित लालू यादव बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री हैं, तो उनके खिलाफ वारंट जारी किया गया।

हमें Follow करें!

x