संघ ने कहा- मांगें पूरी नहीं होने पर करेंगे मुख्यमंत्री आवास का घेराव

रांची/धनबाद: ‘अगर मांगे नहीं मानी गई, तो 27 अप्रैल को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के रांची आवास का घेराव किया जाएगा। यह कहना है झारखंड राज्य जलसहिया कर्मचारी संघ की महिलाओं का।

शनिवार को रणधीर वर्मा चौक पर एक विशाल रैली का नेतृत्व करते हुए जलसहियाओं ने कहा कि यदि सरकार उनकी पांच सूत्री मांगों को अविलंब पूरा नहीं करती है तो आंदोलन उग्र किया जाएगा।

जलसाहियाओं ने सरकार पर तीखा हमला बोलते हुए कहा कि जुलाई माह के बाद से उन्हें मानदेय का भुगतान नहीं किया गया है। उनका ड्रेस कोड अब तक सुनिश्चित नहीं किया गया।

साथ ही उन्हें यात्रा मद में कोई भुगतान नहीं किया जाता है। ऐसे में वह लोग काम करें तो कैसे करें।

बार-बार लिखित प्रतिवेदन देने के बाद भी सरकार का कान नहीं खुल रहा है, जिससे वे लोग आक्रोशित हैं।

उन्हें जीविकोपार्जन में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

ऐसे में शनिवार को रणधीर वर्मा स्टेडियम से जुलूस की शक्ल में निकली जलसहियाओं का समूह पैदल मार्च करते हुए रणधीर वर्मा चौक का भ्रमण करते हुए उपायुक्त कार्यालय पहुंचा, जहां उन लोगों ने अपने पांच सूत्री मांगों से संबंधित एक ज्ञापन धनबाद उपायुक्त को सौंपा।

इसमें उनकी मांगों को अविलंब पूरा करने की मांग की गई है।

साथ ही अप्रैल माह में आंदोलन को उग्र करते हुए मुख्यमंत्री के रांची आवास को घेरने की चेतावनी भी दी गई है।

मौके पर सीमा देवी, रजनी देवी, बबीता कुमारी आदि मौजूद थीं।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button