क्राइमभारत

अंकिता की हत्या की ये थी असली वजह… SIT ने किया खुलासा

देहरादून: अंकिता हत्याकांड (Ankita Murder Case) में एसआईटी  ने वनंत्रा रिजॉर्ट में पहले ठहर चुके और आगे के लिए बुकिंग कराने वाले कुल 76 मेहमानों से पूछताछ कर सभी के बयान दर्ज कर चुकी है।

इनमें से कुछ लोगों के मजिस्ट्रेटी बयान (Magisterial statement) भी दर्ज किए गए हैं। आरोपियों को सजा दिलाने के लिए पर्याप्त सुबूत हैं।

इसके अलावा विधिक राय भी ली जा रही है ताकि जांच का कोई बिंदु रह न जाए। SIT ने दूरदराज के लोगों को भी पूछताछ और बयान दर्ज कराने के लिए बुलाया है, वहीं पुलकित और उसके दोस्तों ने अंकिता की हत्या (Murder) क्यों की, इसकी वजह का खुलासा SIT ने किया है।

ADG (कानून व्यवस्था) के मुताबिक, हत्याकांड को सिद्ध करने के लिए SIT को पर्याप्त साक्ष्य मिल चुके हैं। इनमें इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्य (Electronic Evidence) अहम भूमिका अदा करेंगे। हत्या के इस संगीन मामले में तीन से चार सप्ताह के भीतर चार्जशीट दाखिल कर दी जाएगी।

Ankita Murder

अंकिता की हत्या एक सोची-समझी साजिश

ADG (कानून व्यवस्था) वी मुरुगेशन को पुलिस मुख्यालय (Police Headquarters) का मुख्य प्रवक्ता बनाया गया है। उन्होंने सोमवार को पत्रकारों को SII की अब तक की कार्रवाई की जानकारी दी।

साथ ही बताया कि हत्या का मकसद सिद्ध करने के लिए SIT ने काफी साक्ष्य जुटाए हैं।
पूछताछ और साक्ष्यों के मिलान के बाद यह बात सामने आ चुकी है कि अंकिता की हत्या एक सोची-समझी साजिश थी।

Ankita रिजॉर्ट का राजफाश करना चाहती थी। इसीलिए उसे पुलकित और उसके दोस्त समझाने के बहाने नहर के पास लेकर गए। जब वह नहीं मानी तो उसे धक्का दे दिया।

Ankita Murder

पुलकित ने हत्या के अगले दिन अपना मोबाइल नहर में फेंका

यह भी पता चल चुका है कि पुलकित ने हत्या के अगले दिन अपना मोबाइल नहर में फेंका था। मोबाइल की तलाश की जा रही है। इसके अलावा रिजॉर्ट में क्या-क्या होता था, इस संबंध में मेहमानों से पूछताछ की गई है।

हत्या की रात और उससे पहले रिजॉर्ट (Resort) में ठहरे लोगों के बयान अहम हैं। दिल्ली के कुछ लोग भी यहां अक्तूबर के पहले सप्ताह में जन्मदिन की पार्टी करने आने वाले थे। उनसे भी पूछताछ की गई है।

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker