काशी में दिखेगा अद्भुत नजारा,मां गंगा और भारत माता की होगी एक साथ महाआरती

एक शाम अमृत महोत्सव के नाम से गंगा सेवा निधि की होगी विशेष आरती,तैयारी पूरी

वाराणसी: काशीपुराधिपति बाबा विश्वनाथ की नगरी में शनिवार शाम दशाश्वमेध घाट पर अद्भुत नजारा दिखेगा। घाट पर नियमित विश्व प्रसिद्ध सांयकालीन गंगा आरती कराने वाली संस्था गंगा सेवा निधि एक शाम अमृत महोत्सव के नाम से मां गंगा और भारत माता की एक साथ महाआरती करायेगी।

इसके लिए पूरे दिन संस्था के पदाधिकारियों ने खास तैयारी की।

संस्था के अध्यक्ष सुशांत मिश्र के अनुसार श्री काशी विश्वनाथ धाम के लोकार्पण के अवसर पर भी भव्यतम गंगा आरती होगी। घाटों पर फूलों के वंदनवार भी बनायें जायेंगे।

ज्ञातव्य है कि गंगा सेवा निधि की विशेष गंगा आरती प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ भाजपा शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्री भी देखेंगे। प्रशासनिक अफसरों के अनुसार राजघाट से क्रूज से प्रधानमंत्री ललिताघाट पहुंचेंगे।

यहां से मां गंगा का आचमन कर पैदल ही विश्वनाथ धाम जाएंगे। धाम का लोकार्पण कर जलमार्ग से रविदास घाट पर पहुंचेंगे। यहां से बनारस रेल कारखाना (बरेका) परिसर में विश्राम करने जाएंगे। शाम लगभग 5 बजे वह बरेका से फिर रविदास घाट लौटेंगे।

इसके बाद 12 राज्यों के मुख्यमंत्रियों एवं दो राज्यों के डिप्टी सीएम की ओर से प्रधानमंत्री का अभिनंदन किया जाएगा। फिर प्रधानमंत्री गंगा में नौकायन करेंगे।

इस दौरान दशाश्वमेध घाट के सामने उनका क्रूज रुकेगा और वे विशेष गंगा आरती देखेंगे। इसके पहले चेतसिंह घाट पर शिव दीपावली में खास लेजर शो की छटा भी प्रधानमंत्री देखेंगे। गंगा उसपार रेती भी एलईडी लाइटों एवं झालरों से सजी रहेगी।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button