छह विदेशियों का बांग्लादेश प्रत्यार्पण, गिरफ्तारी के बाद से डिटेंशन कैंप में रह रहे थे

करीमगंज (असम): भारत में अवैध रूप से प्रवेश करने के चलते गिरफ्तारी के बाद से डिटेंशन कैंप में रह रहे एक ही परिवार के 06 लोगों को भारत सरकार ने प्रत्यर्पण के तहत रविवार को बांग्लादेश भेज दिया।

मिली जानकारी के अनुसार वर्ष 2018 में शाह आलम नामक व्यक्ति अपने परिवार के साथ भारत में प्रवेश किया था। उसे गुवाहाटी रेलवे स्टेशन पर पकड़ लिया गया था।

गिरफ्तारी के बाद गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज अस्पताल में शाह आलम की पत्नी ने एक बेटे को जन्म दिया। पश्चिम बंगाल के भारत-बांग्लादेश सीमा इलाके से शाह आलम अपने परिवार के साथ भारत में प्रवेश किया था।

कुछ दिन गुवाहाटी रहने के बाद वह अपने परिवार के साथ बेंगलुरु चला गया था और जब वह लौटा तो उसे गुवाहाटी रेलवे स्टेशन पर गुप्त सूचना के आधार पर गिरफ्तार कर लिया गया।

काफी लंबे समय से जेल और डिटेंशन कैंप में रहने के बाद शाह आलम के परिवार के 06 लोगों को करीमगंज जिला के सुतारकांदी अंतरराष्ट्रीय सीमा के जरिए बांग्लादेश भेज दिया गया।

बांग्लादेश भेजे गए सभी लोगों की पहचान शाह आलम, कुलसुम बेगम, शिउली बेगम, सुहेल, रबीउल हक और मुस्तफा बेगम के रूप में की गई है।

Back to top button