बिहार

Video में देखें सांप के जोड़े को बहन से बंधवा रहा था राखी, इसी बीच सांप ने डंसा, मौत

झाड़-फूंक से सांप कांटने वालों को दे चुका है नई जिन्दगी

छपरा: कहते है कि शौक का कोई मोल नहीं होता यह कब और किस चीज से हो जाता है यह पता नहीं चलता लेकिन कई बार कुछ शौक इंसान के जान के दुश्मन भी बन जाते हैं।

एक ऐसा हीं मामला छपरा में आया है। सारण जिले के मांझी थाना क्षेत्र के शीतलपुर में एक सांप पालने वाले व्यक्ति की मौत सांप काटने से हो गयी।

घटना के संबंध में बताया जाता है कि शीतलपुर निवासी मनमोहन उर्फ भूअर रक्षा बंधन पर अपनी बहन से सांप को राखी बंधवा रहा था।

इसी दौरान सांप ने मनमोहन को काट लिया। जिसे आनन-फानन में उसे छपरा सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी।

सांप पालने का शौकीन था मनमोहन

बताया जाता है कि शीतलपुर निवासी मनमोहन को सांप पालने का शौक था। सांप को पालने के अलावा सांप काटने से सैकड़ों लोगों को मौत के मुंह से निकाल चुका है।

रविवार को वह अपनी बहन से सांप को राखी बंधवा रहा था। तभी उसका ध्यान सांप से हट गया और सांप ने डंस लिया।

थोड़ी ही देर में उसकी तबीयत खराब होने लगी। जिसके बाद उसे सदर अस्पताल ले जाया गया। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी।

सांप काटने के बाद झाड़-फूंक कर कई लोगों की बचायी जान

ग्रामीणों का कहना है कि मनमोहन सांप पालने के अलावा झाड़-फूंक करने का भी काम करता था। दूर-दूर से सांप काटने वाले लोग झाड़-फूंक कराने आते थे।

ग्रामीणों का दावा है कि अब वह सैकड़ों लोगों की जान बचा चुका है लेकिन विडंबना देखिए कि जो सैकड़ों लोगों की जान बचा चुका है वह आज खुद सांप के काटने से मौत के मूंह में समा गया और उसका तंत्र-मंत्र का असर भी काम नहीं आया।