दिल्ली में बेकाबू हो रहा कोरोना, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लिया बड़ा फैसला

नई दिल्ली: दिल्ली में फैलते कोरोना संक्रमण के कारण अब शादी-विवाह, पार्टी इत्यादि में 50 से अधिक लोग एकत्र नहीं हो सकते। पहले 200 व्यक्तियों तक को शादी, पार्टी इत्यादि में शामिल होने की छूट थी। दिल्ली सरकार ने मंगलवार को इसे घटाकर 50 व्यक्ति कर दिया। इसके साथ ही कोरोना हॉटस्पॉट बनने वाले बाजारों को भी दिल्ली सरकार कुछ दिनों के लिए बंद कर सकती है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए मंगलवार को कई अहम निर्णय लिए हैं।

कोरोना देश में: पैरामिलिट्री फोर्स के 75 डॉक्टरों ने दिल्ली में मोर्चा  संभाला; नाक से डालने वाली दवा भी तैयार करेगी भारत बायोटेक

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, पहला यह कि कुछ हफ्ते पहले जब दिल्ली में कोरोना की स्थिति में सुधार हुआ था तो केंद्र सरकार की गाइडलाइंस के मुताबिक दिल्ली में शादियों में 50 से बढ़ाकर 200 व्यक्तियों की मौजूदगी तक की संख्या स्वीकृत की गई थी। उस आर्डर को अब वापस लेने का निर्णय लिया गया है। अब शादियों में केवल 50 व्यक्ति ही शामिल होने की अनुमति होगी। यह निर्णय हमने उपराज्यपाल की स्वीकृति हेतु भेज दिया है। उम्मीद करते हैं कि उनकी मंजूरी जल्दी मिल जाएगी।

कोरोना संकट:केजरीवाल बोले-प्रभावित इलाकों में बंद हो सकते हैं बाजार, शादी  में अब सिर्फ 50 मेहमान - corona crisis in delhi markets may be closed in  affected areas kejriwal

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, दूसरा, हमने देखा कि कुछ बाजारों में काफी संख्या में लोग न तो मास्क पहन रहे थे न ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं। इसकी वजह से कोरोना बहुत ज्यादा फैला। यदि कोरोना नियमों की अनदेखी के कारण दिल्ली के किसी बाजार में कोरोना फैलता है और वह इलाका हॉटस्पॉट बन जाता है तो उसे कुछ दिनों के लिए बंद करने की इजाजत दिल्ली सरकार को दी जाए। इस संबंध में हमने एक प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजा है।

मुख्यमंत्री ने कहा, हम नहीं चाहते कि किसी भी बाजार को बंद किया जाए लेकिन अगर सारी कोशिशों के बावजूद भी अगर किसी बाजार में सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क का इस्तेमाल नहीं किया जा रहा और वह इलाका हॉटस्पॉट बन जाता है तो उसे कुछ दिनों के लिए बंद करने की अनुमति दिल्ली सरकार को दी जाए। ऐसा प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजा जा रहा है। इसके लिए मैंने उपराज्यपाल को भी लिखा है।

मुख्यमंत्री ने कहा, केंद्र सरकार का मैं शुक्रिया अदा करता हूं कि इस कठिन दौर में उन्होंने सहयोग किया। खासतौर दिल्ली में जो 750 आईसीयू बेड बढ़ाने का जो केंद्र सरकार ने आश्वासन दिया है। केंद्र सरकार की इस मदद से दिल्ली को बहुत लाभ होगा। कुछ अस्पतालों में आईसीयू बेड की कमी है। सरकारी अस्पतालों में अभी भी आईसीयू बेड उपलब्ध हैं, लेकिन कुछ प्राइवेट अस्पतालों में अब आईसीयू बेड की कमी होने लगी है। इन अस्पतालों में सामान्य बेड उपलब्ध है लेकिन आईसीयू बेड की कमी होती जा रही है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इस वक्त सारी सरकारें और एजेंसियां मिलकर काम कर रही हैं। सभी लोग कोरोना को हराने के लिए जुटे हुए हैं, लेकिन यह तब तक संभव नहीं हो सकता जब तक हम सब लोग और आप मिलकर सावधानी नहीं बरतते।

मुख्यमंत्री ने सभी से मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की अपील की।

उन्होंने कहा कि कुछ लोगों को लगता है उन्हें कोरोना नहीं होगा। पड़ोसी को हुआ है लेकिन मुझे नहीं होगा। लेकिन कोरोना किसी को भी हो सकता है और यदि यह बिगड़ जाए तो खतरनाक हो सकता है।

Back to top button