वैश्विक रिकवरी में मदद करता चीन का शॉपिंग फेस्टिवल

बीजिंग: हर साल 11 नवंबर को चीन में दुनिया का सबसे बड़ा शॉपिंग फेस्टिवल मनाया जाता है। यह फेस्टिवल दुनिया का सबसे बड़ा ऑनलाइन फेस्टिवल है, और इस दौरान चीनी उपभोक्ता खाने से लेकर लग्जरी सामान तक हर चीज पर करोड़ों-अरबों रुपये खर्च करते हैं।

बुधवार की मध्यरात्रि के समय से शुरू हुए सालाना ऑनलाइन खरीदारी उत्सव के आधे घंटे के भीतर अकेले चीन की ई-कॉमर्स कंपनी टीमॉल पर कुल खरीद मात्रा 372.3 अरब युआन (56.4 अरब डॉलर) से अधिक हो गई, जो मॉर्गन स्टेनली या गोल्डमैन सैक्स के पूरे साल के राजस्व से अधिक है।

दरअसल, इस सालाना खरीदारी उत्सव में चीन की कई ई-कॉमर्स कंपनी जैसे अलीबाबा, जेडी डॉट कॉम, पिनतुओतुओ आदि उपभोक्ताओं को बड़ी छूट देती हैं। खरीदारी उत्सव के दौरान 11 नवंबर को बड़ी सेल लगती है जिसमें ग्राहकों को उत्पादों पर बड़े-बड़े ऑफर्स और छूट दी जाती है।

पिछले साल, खरीदारी उत्सव की कुल खपत 268.4 अरब युआन थी। इस साल बिक्री की मात्रा को प्राप्त करने के लिए टीमॉल को केवल 30 मिनट लगे जो कि 38 प्रतिशत अधिक था।

हालांकि, यह चीनी लोगों की खपत क्षमता का आंशिक रूप से एक प्रतिबिंब है, जो कि साल की शुरूआत में महामारी की रोकथाम और नियंत्रण उपायों के चलते कहीं न कहीं दब गई थी। लेकिन अब उनकी बढ़ती खपत शक्ति के संकेत नजर आने लगे हैं।

इस खरीदारी उत्सव ने साल दर साल नए बिक्री रिकॉर्ड बनाए हैं। इस उत्सव की शुरूआत साल 2009 में हुई थी और अब दुनिया का सबसे बड़ा ऑनलाइन बिक्री उत्सव बन गया है।

आज, 11 साल बाद यह खरीदारी उत्सव एक आम बिक्री बूस्टर और टीमॉल के प्रचार इवेंट के रूप में अपनी मूल भूमिका को पार करते हुए राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था का एक शक्तिशाली इंजन बन गया है।

डेटा बताते हैं कि उपभोग, निवेश और निर्यात अब राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था का सबसे शक्तिशाली चालक है। इसने कोविड-19 महामारी और आर्थिक विपरीत परिस्थितियों और अनिश्चितताओं के बावजूद पहली तीन तिमाहियों में चीन की अर्थव्यवस्था को नकारात्मक से सकारात्मक वृद्धि में आगे बढ़ाया है।

पिछले कुछ सालों में, इस खरीदारी उत्सव ने विदेशी कंपनियों का ध्यान चीनी बाजार की ओर खींचा है। हालांकि, यह उत्सव चीन में जन्मा है, लेकिन अब यह दुनिया भर का इवेंट बन गया है। उदाहरण के लिए, 21 से 31 अक्टूबर तक प्री-सेलिंग (पूर्व बिक्री) की अवधि के दौरान, उपभोक्ता उस रियायती सामान का ऑर्डर दे सकते थे जो वे पहले से चाहते थे। वे रियायती सामान अधिकतर एस्टी लॉडर, लोरियल, लैंकोम जैसे लोकप्रिय ब्रांडों के थे।

ऐसे समय में जब कई विकसित देश एक आर्थिक मंदी का सामना कर रहे हैं, चीन अपनी मजबूत आर्थिक सुधार और मजबूत खपत बल के साथ कई विदेशी कंपनियों के लिए आशा की किरण बन गया है।

सीमा शुल्क के सामान्य प्रशासन के ताजा आंकड़ों के अनुसार, चीन का कुल विदेशी व्यापार साल के पहले 10 महीनों में 25.95 खरब युआन तक पहुंच गया, जो पिछले साल की तुलना में 1.1 प्रतिशत अधिक है।

हर साल खरीदारी उत्सव के बाद, लोग एक-दूसरे से पूछते हैं: क्या आपने इस साल के सौ-अरब युआन के प्रोजेक्ट में हिस्सा लिया? यकीनन, इस साल के खरीदारी उत्सव में हर कंपनी की ब्रिकी और प्रत्येक व्यक्ति के क्रय ने देश और दुनिया की महामारी-उपरांत रिकवरी में योगदान दिया है।

Back to top button