भारत

3 नए कानूनों के पारित होने से समाज में आएगा बड़ा बदलाव,CJI डीवाई चंद्रचूड़ ने…

देश को नए कानूनों की जरूरत, पुराने में हैं कहीं खामियां, यह 150 साल से ज्यादा पुराने

CJI DY Chandrachud : भारत के मुख्य न्यायाधीश DY चंद्रचूड़ (DY Chandrachud) ने 20 अप्रैल को प्रेस कॉफ्रेंस में देश में 3 नए कानूनों के पारित होने पर बढ़ी बात कही है।

बता दें कि कानून मंत्रालय द्वारा आयोजित एक Press Conference में उन्होंने कहा कि देश में 3 नए कानूनों के पारित होने से भारत के समाज में बहुत बड़ा बदलाव आएगा। जिससे की एक नए अध्याय की शुरुआत होगी।

नए कानून भारत में क्रिमिनल जस्टिस सिस्टम में बड़े बदलाव लाएंगे

इसके साथ ही DY Chandrachud ने बताया कि नए कानून के भारत में शुरू होते ही देश के क्रिमिनल जस्टिस सिस्टम में बड़े बदलाव लाएंगे।

इसके अलावा DY Chandrachud ने कहा कि पुराने कानून में कई सारी खामियां हैं। इसकी पहली खामी है कि ये डेढ़ सौ साल से ज्यादा पुराने हो गए हैं। ये कानून 1860, 1873 से चले आ रहे हैं।

इसलिए नए कानून का संसद से पारित होना इस बात का संदेश है कि भारत बदल रहा है।

पुराने कानूनों में कई खामियां

चीफ जस्टिस ने कहा, ‘हाल ही मैं मैने सभी HC के चीफ जस्टिस को चिट्ठी लिखी है कि सभी स्टेक होल्डर्स पुलिस, कोर्ट्स आदि को नए कानूनों के लिए ट्रेनिंग दी जाए।’

चीफ जस्टिस ने कहा पुराने कानूनों में हैं कई सारी कमियां हैं इसलिए इन 3 नए कानूनों के जरिए भारत के Criminal Justice System में अभूतपूर्व बदलाव ला जाएंगे और पीड़ितों पर भी ध्यान दिया जाएगा।

इसके आगे उन्होंने कहा कि पुराने तरीकों की सबसे बड़ी खामी पीड़ित पर ध्यान न देना था। नए कानून में अभियोजन और जांच कुशलता से हो सके, इसके साथ पीड़ित के हितों को भी ध्यान रखा जाएगा।

वहीं उन्होंने कहा कि नया कानून नई जरूरतों के लिए हैं लेकिन हमे ये सुनिश्चित करना होगा कि Infrastructure पर्याप्त रूप से विकसित हो। जांच अधिकारियों को ट्रेनिंग मिले।

Back to top button
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker