चक्रवात ‘IAN’ ने क्यूबा में दी दस्तक, कल तक फ्लोरिडा पहुंचने के आसार

News Aroma Media

हवाना: चक्रवात ‘इयान’ (Cyclone ‘Ian’) ने मंगलवार को मूसलाधार बारिश और तेज रफ्तार हवाओं के साथ क्यूबा (Cuba) के पश्चिम तट पर दस्तक दी।

चक्रवात के मद्देनजर यहां से सरकार अब तक 50 हजार लोगों को सकुशल निकाल चुकी है।

यह चक्रवात तेज गति के साथ उत्तर की ओर बढ़ रहा है और बुधवार तक इसके मैक्सिको की खाड़ी (Gulf of Mexico) से होते हुए अमेरिकी राज्य फ्लोरिडा (Florida) के तट पर पहुंचने के आसार हैं।

इयान श्रेणी-3 का चक्रवात है

श्रेणी-3 का चक्रवात उसे कहते हैं, जिसमें हवाओं की गति कम से कम 178 किलोमीटर प्रति घंटा होती है।

यूएसएनएचसी (USNHC) ने बताया कि यह चक्रवात (Cyclone) प्रचंड होता जा रहा है।

अनुमान है कि जब यह चक्रवात फ्लोरिडा के तट पर पहुंचेगा तब तक यह श्रेणई-4 के चक्रवात में तब्दील हो चुका होगा।

यूएस नेशनल हरिकेन सेंटर (यूएसएनएचसी) ने कहा कि स्थानीय समयानुसार सुबह साढ़े चार बजे इयान ने क्यूबा के तट पर दस्तक दी।

क्यूबा की सरकार ने इयान के पहुंचने से पहले ही मुख्य तंबाकू क्षेत्र पिनार डेल रियो प्रांत से 50 हजार से अधिक लोगों को हटा कर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया। सरकार ने इस द्वीपीय देश में 55 आश्रय स्थल तैयार किये हैं।

यूएसएनएचसी ने कहा कि क्यूबा के पश्चिम तट पर इयान के कारण 14 फुट ऊंची लहरें दिखीं। यूएसएनएचसी के वरिष्ठ विशेषज्ञ डेनियन ब्राउन ने ‘द एसोसिएटेड प्रेस’ से कहा कि क्यूबा को पहले से आशंका थी कि प्रचंड चक्रवात और खतरनाक लहरों के साथ भारी बारिश होगी।

क्यूबा से आगे बढ़ने पर इयान के मैक्सिको की खाड़ी में पहुंचने पर और ताकतवर होने की उम्मीद है, जिसके कारण बुधवार को इसके फ्लोरिडा तट पर पहुंचने पर हवाओं की रफ्तार बढ़कर 225 किलोमीटर प्रति घंटा हो सकती है।

राष्ट्रपति जो बाइडन ने एक आपातकाल की घोषणा की है

फ्लोरिडा के गर्वनर रोन डीसेंटिस (Governor Ron DeSantis) ने राज्यव्यापी आपातकाल का ऐलान करते हुए आगह किया है कि चक्रवात राज्य के बड़े हिस्से पर कहर बरपा सकता है।

राष्ट्रपति जो बाइडन (President Joe Biden) ने भी एक आपातकाल की घोषणा की है।

बाइडन ने जानमाल की रक्षा के लिए आंतरिक सुरक्षा विभाग और संघीय आपात प्रबंधन एजेंसी को आपदा राहत कार्य में समन्वय और सहयोग करने के लिए कहा है।

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी ‘नासा’ (NASA) ने इयान की वजह से केनेडी स्पेस सेंटर से अपने ‘मून रॉकेट’ के प्रक्षेपण की दिशा में धीमी गति से आगे बढ़ने की योजना बनाई और कहा है कि परीक्षण उड़ान में हफ्तों की देरी होगी।

हमें Follow करें!

x