झारखंड : हथियारबंद अपराधियों और सीआईएसएफ के जवानों के बीच फायरिंग और बमबारी

यहां 25 की संख्या में घुस आये हथियारबंद अपराधियों की ओर से सात बम धमाके और तीन राउंड फायरिंग की जा चुकी है

धनबाद: जिले के मुगमा क्षेत्र में कुमारधुबी कोलियरी स्थित भाग्यलक्ष्मी इंक्लाइन में रविवार की रात घुसे हथियारबंद अपराधियों और सीआईएसएफ के जवानों की बीच संघर्ष सोमवार को भी जारी रहा।

यहां 25 की संख्या में घुस आये हथियारबंद अपराधियों की ओर से सात बम धमाके और तीन राउंड फायरिंग की जा चुकी है। जवाबी कार्रवाई में सुरक्षा जवानों ने भी करीब सात राउंड फायरिंग की है।

खदान के बाहर मुगमा एरिया के सुरक्षा गार्ड, सीआईएसएफ के जवानों और चिरकुंडा थाना की पुलिस ने मोर्चा संभाला है।

खदान के बाहर मुगमा एरिया के सुरक्षा गार्ड, सीआईएसएफ के जवानों और चिरकुंडा थाना की पुलिस ने मोर्चा संभाला है।

बताया जा रहा है कि अपराधियों द्वारा की गयी बमबारी में एक सुरक्षाकर्मी अवध बिहारी महतो घायल हो गया है। उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

जानकारी के मुताबिक, रविवार की रात करीब दस बजे इंक्लाइन में बिजली गुल हो गयी। अंधेरे का फायदा उठाकर केबुल की डकैती करने के लिए करीब 25 हथियारबंद अपराधी इंक्लाइन के अंदर चले गये।

बिजली कटने की सूचना मिलने पर जब रात 11 बजे सुरक्षाकर्मी और कुछ अन्य कर्मी अंदर गये, तो अपराधियों ने उन पर बम से हमला कर दिया। इससे मुगमा एरिया का सुरक्षाकर्मी अवध बिहारी महतो घायल हो गया।

झारखंड : हथियारबंद अपराधियों और सीआईएसएफ के जवानों के बीच फायरिंग और बमबारी

उसकी एक अंगुली उड़ गयी। कर्मी जान बचाकर खदान से बाहर भागे और सीनियर अफसरों और सुरक्षाकर्मियों को घटना के बारे में बताया।

सूचना मिलने पर ईसीएल मुगमा क्षेत्र के सुरक्षाकर्मी कुमारधुबी भाग्यलक्ष्मी इंक्लाइन पहुंचे और जवाबी कार्रवाई की। डकैतों को दबोचने के लिए चिरकुंडा पुलिस, सीआईएसएफ व ईसीएल सुरक्षाकर्मी मुहाने के पास डटे हुए हैं।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button