बिहार

सीवान के ग्रामीण क्षेत्र में घर-घर कचरे का होगा उठाव

ग्रामीण क्षेत्रों में नगर परिषदों और नगर पंचायतों के तर्ज पर ग्राम पंचायतों में भी घर-घर घुमकर कचरों का उठाव किया जाएगा

सीवान: जिले के गांव अब बड़े-बड़े शहरों की तरह स्वच्छता (Cleanliness) और सफाई के मामले में बेहतर प्रदर्शन करने वाले हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में नगर परिषदों और नगर पंचायतों के तर्ज पर ग्राम पंचायतों में भी घर-घर घुमकर कचरों का उठाव किया जाएगा।

इसको लेकर तैयारी अंतिम चरण में है।जिले के स्वच्छ भारत मिशन (Clean India Mission) कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार अगले माह से चयनित सभी 40 पंचायतों में यह कार्य शुरू हो जाएगा।

इसके लिए मुखिया को निर्देशित किया गया है कि वे अपने पंचायत में कचरा उठाव के लिए हर गांव के हर घर में हरा और नीला डस्टबिन का वितरण जल्द से जल्द करवा लें।

इस कार्य के लिए विभागीय स्तर से राशि भी स्वीकृत कर भेज दी गई है। जिला ग्रामीण विकास विभाग (District Rural Development Department) से प्राप्त जानकारी के अनुसार ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबंधन के लिए सभी चयनित पंचायतों में जिला जल एवं स्वच्छता समिति को जमीन का एनओसी प्राप्त हो गया है।

राशि भी स्वीकृत कर भेज दी गई

वहीं सिसवन प्रखंड के भीखपुर व भागर, हुसैनगंज के हथौड़ा पंचायत में वेस्ट प्रोसेसिग यूनिट का निर्माण कार्य भी शुरू हो गया है, जबकि हुसैनगंज के हथौड़ा व बड़हरिया के कोईरीगावां में सामान की आपूर्ति भी कर दी गई है।

इन दोनों पंचायतों में अगले सप्ताह से घर-घर से कचरे का उठाव शुरू हो जाएगा।जिले के स्वच्छ भारत मिशन कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार लोहिया स्वच्छ बिहार अभियान के तहत ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबंधन के लिए सीवान जिले के जिन 40 पंचायतों को चिह्नित किया गया है।

उनमें सीवान सदर प्रखंड के बाघड़ा व पिठौरी पंचायत के अलावा आंदर के जयजोर व पतार, बड़हरिया के नवलपुर, कोईरीगांवा, लकड़ी दरगाह व सिकंदरपुर, बसंतपुर के कंहौली व राजापुर, भगवानपुरहाट के बनसोही व साघर सुल्तानपुर,

दरौली के बेलांव च चकरी, दरौंदा के जलालपुर व करसौत, गोरेयाकोठी के आज्ञा व हरपुर, गुठनी के पड़री व सोनहुला, हसनपुरा के रजनपुरा व सहली, हुसैनगंज में छाता व हथौड़ा, लकड़ी नबीगंज में लकड़ी व लखनौरा, मैरवा में इंग्लिश व मुड़ियारी,

नौतन में खलवां व मठिया, पचरुखी में मखनुपुर व सहलौर, रघुनाथपुर में कड़सर व राजपुर, सिसवन में भागर व भीखपुर, जीरादेई में जीरादेई व नरेंद्रपुर तथा महाराजगंज के पोखरा व तक्कीपुर पंचायत शामिल हैं।

इस संबंध में लोहिया स्वच्छ बिहार अभियान के जिला समन्वयक विनोद कुमार ने बताया कि सीवान के सभी चिह्नित 40 पंचायतों में 34 में कार्य प्रारंभ करने की कार्रवाई की जा रही है। इन पंचायतों में स्टीमेट बनाने का कार्य युद्ध स्तर पर चल रहा है।

साथ ही तीन पंचायतों में वेस्ट प्रोसेसिग यूनिट (Waste Processing Unit) का निर्माण भी अंतिम चरण में है। हर हाल में सभी पंचायतों में जुलाई माह के से कचरे का उठाव शुरू हो जाएगा।