पैरों की स्किन का ड्राई होना हाई कोलेस्ट्रॉल का है संकेत

News Alert

नई दिल्ली: हाई कोलेस्ट्रॉल (High Cholesterol) ‘साइलेंट किलर’ कहा जाता है। आर्टरीज (Arteries) में कोलेस्ट्रॉल जमने से ब्लड फ्लो काफी ज्यादा कम हो जाता है। जिससे हार्ट डिजीज और स्ट्रोक (Heart Disease And stroke) का खतरा बढ़ जाता है।

आर्टरीज ब्लॉक (Arteries Block) होने के कारण पैरों तक ब्लड का फ्लो नहीं हो पाता है। जिससे पैरों में इसके लक्षण नजर आने लगते हैं।

Dryness of the skin of the feet is a sign of high cholesterol

 

इस स्थिति को क्रिटिकल लिम्ब इस्केमिया (CLI) कहा जाता है। इसके चलते भंयकर दर्द, अल्सर या घाव का खतरा काफी ज्यादा बढ़ जाता है।

CLI होने पर ड्राई स्किन (Dry Skin) के साथ ही और भी कई संकेत देखने को मिलते हैं। CLI के अन्य संकेतों में शामिल हैं -स्किन का पीला, स्मूद या शाइनी नजर आना।

Dryness of the skin of the feet is a sign of high cholesterol

नेशनल हेल्थ सर्विस (NHS) के मुताबिक, क्रिटिकल लिम्ब इस्केमिया (Critical Limb Ischemia) के ये हैं लक्षण

1. पैरों में गंभीर दर्द, रेस्टिंग पोजीशन में बैठने के बावजूद दर्द होना।

2. पैर की Skin का पीला, शाइनी और स्मूद और ड्राई नजर आना।

3. पैरों में घाव और अल्सर का बनना और ठीक ना होना।

4. टांगों का मसल मास कम होना।

5. पैरों की उंगलियों का ठंडा और सुन्न होना, साथ ही लाल या काला होना।

6. पैरों की उंगलियों में सूजन और बदबूदार मवाद आना।

7. अगर आपको अपने पैरों में ये संकेत नजर आते हैं तो जरूरी है कि आप Dr. से संपर्क करें।

Share This Article