रांची में अचानक शुरू हो गई ED की रेड, मंत्री आलमगीर आलम से जुड़े शख्स के घर से करोड़ों रुपए बरामद

Digital Desk

ED Raid : लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) के बीच सोमवार को झारखंड (Jharkhand) में प्रवर्तन निदेशालय (ED) की टीम ने अचानक रेड (Raid) शुरू कर दी।

बताया जाता है कि Ranchi में एक साथ कई ठिकानों पर रेड जारी है। ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम (Alamgir Alam) से जुड़े एक शख्स के घर से ED ने करोड़ों रुपए कैश के रूप में बरामद हुआ हैं।

नोटों को गिनने के लिए बैंक से कर्मचारियों और मशीनों को मंगवाया गया है।

चुनाव के बीच कैश बरामदगी से इस पर राजनीतक बवाल भी तय है।

यह भी दिलचस्प संयोग है कि दो साल पहले आज ही के दिन IAS पूजा सिंघल के यहां छापा पड़ा था और 17 करोड़ मिले थे।

जानकारी के अनुसार, झारखंड के ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम के निजी सचिव संजीव लाल और उनके नौकर जहांगीर के घर भी ईडी की तलाशी चल रही थी।

इस दौरान जहांगीर के घर अधिकारियों को इतना कैश मिला कि वे भी देखकर दंग रह गए। बताया जा रहा है कि रकम 20-30 करोड़ से अधिक हो सकती है।

वीरेंद्र राम से जुड़ा मामला

ED ने ग्रामीण विकास विभाग के चीफ इंजीनियर वीरेंद्र के राम से जुड़े केस में यह छापेमारी कर रही है।

वीरेंद्र राम को फरवरी 2023 में गिरफ्तार किया गया था। कुछ योजनाओं के क्रियान्वयन में कथित तौर पर अनियमितता और मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप लगने के बाद ईडी वीरेंद्र तक पहुंची थी।

अब कैश बरामदगी के बाद ईडी इस मामले में कई और लोगों को गिरफ्तार कर सकती है।

आलमगीर आलम कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मंत्री

बता दें कि आलमगीर आलम कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हैं और झारखंड की चंपाई सोरेन सरकार में मंत्री हैं। वह विधानसभा अध्यक्ष भी रह चुके हैं।

आलमगीर आलम साहिबगंज (Sahibganj) जिले के रहने वाले हैं। झामुमो, कांग्रेस और आरजेडी गठबंधन की सरकार में आलमगीर को काफी ताकतवर माना जाता है।

हमें Follow करें!