मोदी प्रचार के बजाय कोरोना वैक्सीन आवंटन की रणनीति पर ध्यान दें: पवन खेड़ा

नई दिल्ली: कांग्रेस ने शनिवार को कोविड-19 वैक्सीन के विकास और निर्माण प्रक्रिया की समीक्षा करने के लिए तीन शहरों की यात्रा पर निकले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा।

कांग्रेस ने मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि उन्हें हर बार प्रचार करने के बजाय इस बात के लिए बैठकें आयोजित करनी चाहिए कि वैक्सीन आखिर कैसे आवंटित की जाएगी?

यहां दिल्ली कांग्रेस कार्यालय में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा, प्रधानमंत्री को रणनीतिक बैठकें करनी चाहिए और तय करना चाहिए कि टीके (वैक्सीन) कैसे आवंटित किए जाएंगे, यह कैसे काम करेगा और उन्हें पहले कौन प्राप्त करेगा।

खेड़ा ने कहा कि उन्हें हर समय अपना प्रचार करने के बजाय ऐसी चीजों पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए।

उनकी टिप्पणी कोविड-19 को मात देने के लिए तैयार हो रही वैक्सीन विकास और विनिर्माण प्रक्रिया की समीक्षा के लिए मोदी की तीन शहरों की यात्रा के बीच एक सवाल के जवाब में सामने आई।

प्रधानमंत्री मोदी शनिवार सुबह सबसे पहले अहमदाबाद पहुंचे।

यहां वह जायडस बायोटेक पार्क पहुंचे, जहां उन्होंने जायडस कैडिला की कोरोना वैक्सीन जाइकोव-डी की तैयारियों का जायजा लिया।

इसके बाद प्रधानमंत्री पुणे में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया का दौरा करेंगे।

कांग्रेस नेता ने अरविंद केजरीवाल की अगुवाई वाली दिल्ली सरकार को 11 महीने में स्वास्थ्य सेवा के लिए कुल फंड का केवल 25 प्रतिशत खर्च करने पर भी निशाना साधा।

खेड़ा ने कहा, दिल्ली सरकार ने इस साल 11 महीनों में स्वास्थ्य सेवा के लिए कुल निधि का केवल 25 प्रतिशत खर्च किया है। यह ऐसे समय में है जब हम महामारी से लड़ रहे हैं।

आम आदमी पार्टी (आप) सरकार के बहुप्रचारित मुहल्ला क्लीनिकों पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, हमें दिखाओ कि कितने मोहल्ला क्लीनिक काम कर रहे हैं?

उन्होंने कहा कि कोरोनावायरस के परीक्षण केंद्र के रूप में केवल छह मोहल्ला क्लीनिक का उपयोग किया जा रहा है।

खेड़ा ने कहा, यह इसलिए हो रहा है, क्योंकि आपने अपने वर्कर्स के कागजात पर उनके घरों और दुकानों पर फर्जी मोहल्ला क्लीनिक बनाए हैं।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button