… और इस वजह से प्रिंसिपल ने छात्र को डंडे से दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, इसके बाद…

वाकई यह बेरहमी का उदाहरण है कि किसी भी वजह से छात्र को इस तरह से स्कूल परिसर में दौड़ा-दौड़ा कर पीटा जाए। गणतंत्र दिवस (Republic Day) के दिन शुक्रवार को रमकंडा प्रखंड के उत्क्रमित उच्च विद्यालय (Upgraded High School), मुरली के प्रधानाध्यापक रेवाज अंसारी (Rewaj Ansari) की साली से विद्यालय में एक छात्र से किसी बात को लेकर कहासुनी हो गयी।

News Aroma Desk

Garhwa News: वाकई यह बेरहमी का उदाहरण है कि किसी भी वजह से छात्र को इस तरह से स्कूल परिसर में दौड़ा-दौड़ा कर पीटा जाए। गणतंत्र दिवस (Republic Day) के दिन शुक्रवार को रमकंडा प्रखंड के उत्क्रमित उच्च विद्यालय (Upgraded High School), मुरली के प्रधानाध्यापक रेवाज अंसारी (Rewaj Ansari) की साली से विद्यालय में एक छात्र से किसी बात को लेकर कहासुनी हो गयी।

पीटते-पीटते शिक्षक का डंडा भी टूट गया

इस तू-तू, मैं-मैं की जानकारी मिलने से नाराज प्रधानाचार्य रेखाज अंसारी ने शिक्षक रविरंजन व मोहित के साथ मिलकर उक्त छात्र को विद्यालय परिसर में दौड़ा दौड़ा कर डंडे से जमकर पीटा, पिटाई इतनी हुई कि पीटते-पीटते Teacher का डंडा भी टूट गया।

मामले की जानकारी मिलते ही छात्र के अभिभावक और ग्रामीण आक्रोशित हो गये। इसके बाद सभी स्कूल पहुंचे और जमकर हंगामा किया। वे प्रधानाचार्य व शिक्षक के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे थे।

पीड़ित छात्र दीपक ने बताया…

इसकी सूचना मिलने पर रमकंडा पुलिस School पहुंची और मामले की जानकारी ली। Police के समझाने के बाद लोग शांत हुए, आक्रोशित ग्रामीणों को देख प्रधानाचार्य रेयाज अंसारी (Reyaz Ansari) और शिक्षकों ने माफी मांगना शुरू कर दिया।

इस संबंध में पीड़ित छात्र दीपक ने बताया कि वह अपने दोस्तों के साथ मोबाइल पर दूसरे विद्यालय के कार्यक्रम का Video देख रहा था। इसी दौरान प्रधानाचार्य की साली उस पर फोटो खींचने का आरोप लगाकर गाली- गलौज करने लगी।

प्रधानाचार्य व दो शिक्षकों पर कार्रवाई

इसके बाद उसने अपने जीजा प्रधानाचार्य रेबाज अंसारी को कहकर उनके खिलाफ भड़काया। SI मंटू शर्मा ने कहा कि उन्हें स्कूल में छेड़खानी (Flirting) करने की सूचना मिली थी। लिखित शिकायत मिलने पर कार्रवाई की जायेगी। DSE आकाश कुमार ने कहा कि छात्र की पिटाई का मामला गंभीर है।

इस मामले में BEEO से स्पष्टीकरण पूछा जायेगा, मामले की जांच कर प्रधानाचार्य (Principal) व दो शिक्षकों पर कार्रवाई की जावेगी, DSE के कहने पर छात्र ने उन्हें E-mail  के जरिये अपनी शिकायत लिखित रूप से भेजी है।

Share This Article