हजारीबाग केरोसिन ब्लास्ट मामला : मोबाइल वैन से केरोसिन तेल की होगी जांच

हजारीबाग: आयल कंपनी के माध्यम से हजारीबाग को मोबाइल जांच वैन उपलब्ध कराया गया है।

यह वैन संदिग्ध केरोसिन तेल के सैंपल की जांच कर अविलंब उसकी रिपोर्ट देने का काम करेगा। अब तक केरोसिन तेल के सैंपल को खूंटी भेजकर जांच कराया जाता था।

ऐसे में जांच रिपोर्ट आने में विलंब होता था। जिला आपूर्ति पदाधिकारी अरविंद कुमार ने कहा कि इससे अब लोगों को सहूलियत होगी।

केरोसिन तेल विस्फोट के मामले की तुरंत जांच की जा सकेगी। उन्होंने कहा कि जरूरत पड़ने पर इस वैन को प्रखंड स्तर पर भी भेजा जाएगा।

इधर, आयल कंपनी के महाप्रबंधक कौशिक चटर्जी ने कहा कि हजारीबाग से केरोसिन तेल जलाने के क्रम में विस्फोट होने की घटनाएं काफी प्रकाश में आई है।

इसी को ध्यान में रखकर मोबाइल जांच वैन को यहां दिया गया है। इस वैन से जांच के बाद यह बताया जा सकेगा कि किरासन तेल उपयोग के लायक है या नहीं।

उन्होंने कहा कि इस जांच से केरोसिन तेल के फ्लैश पॉइंट की जानकारी तुरंत हो सकेगी।

गौरतलब है कि हजारीबाग सदर प्रखंड के गुरहेत, चुटियारो, अमनारी एवं हुटपा पंचायत में केरोसिन तेल जलाने के क्रम में विस्फोट होने का मामला प्रकाश में आया है।

इस मामले में अब तक पांच लोगों की मौत हो चुकी है जबकि दो दर्जन से अधिक लोग घायल हुए हैं। रविवार देर शाम भी इसी प्रकार की घटना में हुटपा पंचायत के तरवा की मैनवा देवी(42) गंभीर रूप से झुलस गई।

उसका इलाज शेख भिखारी मेडिकल कॉलेज अस्पताल हजारीबाग में किया जा रहा है।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button