धनबाद के जज हत्या मामले में हाई कोर्ट ने जमकर लगाई फटकार, कहा- झारखंड में कानून व्यवस्था बदतर

धक्का लगते ही आदमी आगे गिरता है, यह क्रूरतापूर्वक की गई हत्या

रांची: धनबाद में जज उत्तम आनंद की हत्या के मामले पर झारखंड हाई कोर्ट ने गुरुवार को गंभीर टिप्पणी की है। मुख्य न्यायाधीश डॉ रवि रंजन ने कहा कि झारखंड में कानून व्यवस्था बदतर है। उन्होंने धनबाद में जज उत्तम आनंद की हत्या पर नाराजगी जताई।

उन्होंने कहा कि इससे अच्छा तो नागालैंड और अन्य राज्य हैं। सीसीटीवी फुटेज से स्पष्ट है कि यह हमला जानबूझकर किया गया है।

यह न्यायपालिका पर हमला है। सुनवाई के दौरान धनबाद के एसएसपी संजीव कुमार की हाजिर थे।

सीसीटीवी फुटेज को सुनवाई के दौरान देखते हुए एसएसपी से कोर्ट ने पूछा कि अब आप बताइए क्या हुआ था।

धक्का लगते ही आदमी आगे गिरता है, यह क्रूरतापूर्वक की गई हत्या 

कोर्ट ने कहा कि फुटेज देखकर लगता है कि कोई आदमी आगे भी खड़ा था।

ऑटो रिक्शा जब व्यक्ति के करीब पहुंचा तो बीच सड़क से घूम कर उस व्यक्ति को जोरदार धक्का मारा, जिससे वह व्यक्ति बाएं गिरा। धक्का लगते ही आदमी आगे गिरता है।

यह क्रूरतापूर्वक की गई हत्या है। यह न्यायपालिका पर सीधा हमला है। अदालत ने डीजीपी को जल्द इस मामले में त्वरित कार्रवाई का निर्देश दिया है।

…तो यह मामला CBI को दे दिया जाएगा

अदालत ने यह भी कहा कि हाईकोर्ट इस मामले की मॉनिटरिंग करेगा। अदालत ने यह भी कहा कि अगर किसी भी वक्त अदालत को ऐसा लगा कि जांच में कोताही बरती जा रही है तो यह मामला सीबीआई को दे दिया जाएगा।

राज्य सरकार की ओर से महाधिवक्ता राजीव रंजन ने सरकार का पक्ष रखा।

उन्होंने बताया कि इस मामले में सरकार गंभीर है। पुलिस पूरे प्रकरण की जांच कर रही है। मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया है।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button