झारखंड

आज ED दफ्तर नहीं पहुंचे IAS मनीष रंजन, लेटर लिख मांगी…

टेंडर कमीशन मामले में ईडी ने अपनी कार्यवाई शुरू कर दी है. हाल ही में ईडी ने मंत्री आलमगीर आलम को इस मामले मे गिरफ्तार किया है. जिसके बाद अब ईडी कई अधिकारियों को समन भेज कर पूछताछ की तैयारी में जुट गई है।

IAS Manish Ranjan : टेंडर कमीशन मामले में ED ने अपनी कार्यवाई शुरू कर दी है. हाल ही में ईडी ने मंत्री आलमगीर आलम को इस मामले मे गिरफ्तार किया है. जिसके बाद अब ईडी कई अधिकारियों को समन भेज कर पूछताछ की तैयारी में जुट गई है। अब ED ने टेंडर कमीशन मामले में IAS अधिकारी मनीष रंजन को समन भेज कर पूछताछ के लिए बुलाया था।

टेंडर कमीशन मामले में IAS मनीष रंजन को आज ED ने समन भेज पूछताछ के लिए बुलाया था। लेकिन, मनीष रंजन ने एक सरकारी कर्मचारी से चिट्ठी भिजवाकर दूसरी तारीख मांगी है।

ED को जो दस्तावेज मिले हैं, उसमें M का जिक्र है। ED को शक है कि तत्कालीन ग्रामीण विकास विभाग के सचिव और वर्तमान में भवन निर्मा‌ण विभाग के सचिव मनीष रंजन हो सकते हैं।

ED ने मनीष रंजन को ये चीजें साथ लाने को कहा था

मनीष रंजन ग्रामीण विकास विभाग में सचिव के पद पर रहे हैं। टेंडर कमीशन मामले में इनकी क्या भूमिका रही। कमीशन में इनका कितना हिस्सा रहा, क्या डायरी में दर्ज कोड नेम इनका है। ऐसे कई सवालों के जवाब आज ED मनीष रंजन से मांगेगी। मनीष रंजन को अपनी और अपने परिवार के सदस्यों की आय और संपत्ति से संबंधित दस्तावेज भी साथ लाने को कहा गया है।

 

x