बजट के नाम पर बस घालमेल कर कागज का पुलिंदा रख दिया: सुदेश महतो

रांची: आजसू पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष कुमार महतो ने कहा है कि हेमंत सोरेन की सरकार ने जो बजट पेश किया उसमें कोई विजन और प्रतिबद्धता नहीं है। सरकार किस राह पर चलना चाहती है, उसे खुद पता नहीं है। बजट के नाम पर बस घालमेल कर कागज का पुलिंदा रख दिया है।

महतो ने बुधवार को कहा कि बजट तैयार करने से पहले सत्तारूढ़ दलों को चुनाव से पहले जारी किए गए अपने निश्चय पत्र और घोषणा पत्र को एक बार जरूर पढ़ना चाहिए था।

अगर सत्तारूढ़ दल निश्चित पत्र घोषणा पत्रों को पढ़ना नहीं चाहते तो यह उनकी भूल है कि राज्य की जनता, युवाओं और बेरोजगारों को वह वादे और बातें याद नहीं है।

सरकार को बताना चाहिए कि रोजगार के लिए इस बजट में क्या खास प्रावधान किया गया है, जबकि नौकरी और रोजगार इस राज्य का सबसे बड़ा मसला है।

उन्होंने कहा कि केंद्र की अधिकतर योजनाओं को अपने नाम पर करने की बेताबी इस बजट में साफ झलकती है। उद्योगों को बचाने और उसके सुदृढ़ीकरण से सरकार ने साफ-साफ मुंह मोड़ लिया है।

रोजगार और नई नियुक्तियों के लिए कोई नीतिगत दिशा नहीं है। पिछले बजट में स्नातक और स्नातकोत्तर पास बेरोजगार युवाओं को बेरोजगारी भत्ता देने का प्रावधान किया गया था।

पूरे साल बेरोजगारों को एक पाई नहीं मिला। ग्रामीण विकास, कृषि, जल संसाधन में कुल बजट का सिर्फ 20 प्रतिशत प्रावधान किया गया है, जबकि राज्य के 75 प्रतिशत लोगों का जीवन इससे प्रभावित है।

साथ ही कहा कि बजट में गरीबों के लिए मुफ्त कोरोना टीकाकरण का प्रावधान करना चाहिए था।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button