क्राइमझारखंड

जमशेदपुर में बैडमिंटन खिलाड़ी प्रशांत हत्याकांड का खुलासा, दो गिरफ्तार

SSP किशोर कौशल ने बताया कि प्रशांत की मां ने बिरसानगर थाना में काजल के खिलाफ अपहरण की प्राथमिकी दर्ज कराई थी।

Badminton Player Murder Update : पूर्वी सिंहभूम (जमशेदपुर) के अंतरराष्ट्रीय पारा बैडमिंटन खिलाड़ी (Badminton Player) प्रशांत कुमार सिन्हा (Prashant Kumar Sinha) की हत्या के आरोप में पुलिस ने काजल सुमन और उसके आशिक रौनक कुमार को रविवार को जेल भेज दिया।

मामले का खुलासा करते हुए SSP किशोर कौशल ने रविवार को बताया कि काजल ने ही रौनक के साथ मिलकर प्रशांत की हत्या (Murder) की और फिर शव को बोरे में भरकर हजारीबाग (Hazaribagh) के छड़वा डैम से नीचे फेंक दिया।

पुलिस ने आरोपित रौनक के पास से प्रशांत की कलाई घड़ी और घटना में प्रयुक्त स्कूटी बरामद की है।

काजल की थी प्रशांत से दोस्ती

SSP किशोर कौशल ने बताया कि प्रशांत की मां ने बिरसानगर थाना में काजल के खिलाफ अपहरण की प्राथमिकी दर्ज कराई थी।

पुलिस ने टेक्निकल टीम की सहायता से काजल और उसके साथी रौनक को हजारीबाग पुलिस (Hazaribagh Police) की मदद से गिरफ्तार किया।

SSP ने बताया कि काजल ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि प्रशांत के साथ वर्ष 2019 से उसकी दोस्ती थी। बाद में लड़की प्रशांत से कटना चाह रही थी। यह बात प्रशांत को कबूल नहीं था।

ब्लैकमेल कर रहा था प्रशांत

काजल ने पुलिस को यह बताया कि प्रशांत उसे काफी लंबे समय से ब्लैकमेल कर रहा था।

दोस्ती तोड़ लेने पर अंतरंग फोटो (Photo) और वीडियो वायरल (Video Viral) करने की धमकी दे रहा था। इससे तंग आकर उसे 11 मार्च को जमेशदपुर से बहला-फुसलाकर हजारीबाग शहर के शहीद निर्मल महतो पार्क के पास लायी थी।

यहां पहले से मौजूद दोस्त रौनक के साथ मिलकर उसकी गला दबाकर हत्या कर दी।

उसी रात में एक स्कूटी से प्लास्टिक की बोरी में शव को बांधकर बीच में रखकर दोनों छड़वा डैम गए और शव को ठिकाना लगा दिया।

अंतरराष्ट्रीय पैरा बैडमिंटन खिलाड़ी था प्रशांत

उल्लेखनीय है कि प्रशांत सिन्हा अंतरराष्ट्रीय पैरा बैडमिंटन खिलाड़ी (International Para Badminton Player) था।

वह वर्ष 2023 में थाईलैंड (Thailand) में आयोजित अंतरराष्ट्रीय पैरा बैडमिंटन खेल में शामिल हुआ था और भारत का प्रतिनिधित्व किया था। प्रशांत कुमार सिन्हा 11 मार्च से लापता था।

प्रशांत की मां ने अपहरण का आवेदन देकर 22 मार्च को प्राथमिकी संख्या 30/24 धारा 364 (ए) के तहत दर्ज करायी थी।

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker