झारखंड

खूंटी में लोक अदालत में 3615 मामलों का हुआ निष्पादन, दो करोड़ के राजस्व की वसूली

लोक अदालत में विभिन्न मामलों के निष्पादन के लिए सात बेंचों का गठन किया गया था

खूंटी: डालसा खूंटी ने शनिवार को आयोजित राष्ट्रीय लोक अदालत (National Lok Adalat) में 3615 मामलों का निस्तारण किया। इसमें दो करोड़ 41 हजार रुपये राजस्व की प्राप्ति हुई।

राष्ट्रीय लोक अदालत का शुभारंभ प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश सत्य प्रकाश ने दीप प्रज्वलित कर किया।

लोक अदालत में विभिन्न मामलों के निष्पादन के लिए सात बेंचों का गठन किया गया था। प्रथम बैंच में अपर जिला जिला जज प्रथम संजय कुमार, अधिवक्ता मिलन कुमार दास और राजेश कुमार शामिल थे।

द्वितीय बैंच में अपर जिला जज द्वितीय सत्य काम प्रियदर्शी, अधिवक्ता मनोज कुमार ठाकुर और ममता सिंह, तृतीय बैंच में मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी सत्यपाल, अधिवक्ता कविता कुमारी और मदन मोहन राम अधिवक्ता शामिल थे।

राजस्व की प्राप्ति हुई और 121 मामलों का निष्पादन किया गया

चतुर्थ बैंच में एसडीजेएम दिनेश बाउरी, अधिवक्ता आशीष कुमार और सुमित कुमार कश्यप शामिल थे। पंचम बैंच में न्यायिक दंडाधिकारी प्रथम तुषार आनंद, अधिवक्ता मुकुल कुमार पाठक और अनिभा तिर्की थे।

छठें बैंच में स्थायी लोक अदालत के अध्यक्ष वीरेंद्र कुमार, सदस्य चंदा कुमारी और अधिवक्ता शशि कला कुमारी थी, उपभोक्ता फोरम की अध्यक्ष रीता मिश्रा, सदस्य सुरेश कुमार राय और सचिव राधा रानी शामिल थे।

लोक अदालत में दीवानी और फौजदारी न्यायालय के सभी सुलहनीय प्रकृति के मामले, बैंक लोन, एमवी एक्ट, नगर पंचायत, डीटीओ, फॉरेस्ट केस, एक्साइज और बिजली संबंधित मामले प्रस्तुत किये गये।

डालसा के सचिव मनोरंजन कुमार ने बताया कि राष्ट्रीय लोक अदालत में 3615 मामलों का निस्तारण कर दो करोड़ 415379 रुपए के राजस्व की प्राप्ति हुई और 121 मामलों का निष्पादन किया गया।