झारखंड : जमीन विवाद में वृद्ध दंपति की टांगी से मार कर हत्या, चार गिरफ्तार

न्यूज़ अरोमा गुमला: जमीन विवाद को लेकर वृद्ध दंपति की टांगी से मार कर हत्या कर दी गयी। गुमला थाना क्षेत्र के सतपारा घट्ठा गांव में रविवार की रात हत्यारों ने वृद्ध सनी गोप (65 ) का सिर धड़ से अलग कर दिया।

अपने पति को बचाने गयी फुलो देवी (60) को भी टांगी से काट डाला गया। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए घटना में संलिप्त चार आरोपितों संजय भगत उर्फ गुरू लोहरा, उसके दो पुत्रों पंकज भगत व संतोष भगत और पत्नी झालो देवी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त टांगी व डंडे भी बरामद की है।

इस संबंध में गुमला के एसडीपीओ मनीष चंद्र लाल ने सोमवार को गुमला थाना परिसर में गिरफ्तार आरोपियों को स्थानीय मीडिया के सामने प्रस्तुत करते हुए घटनावृत की जानकारी दी।

लाल ने बताया कि रविवार की रात करीब आठ बजे पुलिस को इस घटना की सूचना मिली। इसके बाद घटना की जांच के लिए एक छापामारी दल का गठन किया गया। यह दल जब घटनास्थल पर पहुंची तो देखा कि सनी गोप का सिर विहिन शव और उसकी पत्नी फुलो देवी की लाश जमीन पर पड़ी हुई है।

पूछताछ करने पर मृतक के पुत्र संतोष गोप ने बताया कि इनके घर के पास की जमीन को लेकर संजय भगत उर्फ गुरू लोहरा से विवाद चल रहा है।

इनलोगों ने जमीन विवाद को लेकर पूर्व में भी जान से मारने की धमकी दी थी। शाम करीब सात बजे संजय भगत उर्फ गुरू लोहरा,उसके दोनो पुत्र पंकज भगत व संतोष भगत और पत्नी झालो देवी टांगी व लाठी-डंडा लेकर उसके घर पहुंचे और उसके मां-बाप को गाली देने लगें।

जब उनके पिता ने ऐसा करने से मना किया तो संजय भगत उर्फ गुरू लोहरा ने उसके बाप को टांगी से मार कर सिर धड़ से अलग कर दिया। उसकी मां बचाने गयी तो उसे भी टांगी से मार कर हत्या कर दी गयी।

हमलावरों ने मृतक के पुत्र संतोष गोप को लाठी-डंडे से मार कर घायल कर दिया।

वह किसी तरह भाग कर अपनी जान बचायी। संतोष गोप के फर्द बयान पर उपर्युक्त आरोपियों के खिलाफ गुमला थाना में एक मामला दर्ज किया गया है।

दोनो शवों को पोस्टमार्टम के लिए गुमला सदर अस्पताल तथा आरोपियों को जेल भेज दिया गया।

Back to top button