झारखंड में यहां धनरोपनी के लिए नहीं है सिंचाई की व्यवस्था, किसान ऐसे कर रहे पानी का जुगाड़

महुआडांड़/लातेहार : महुआडांड़ प्रखंड में हाइब्रिड धान का बिचड़ा तैयार हो चुका है।

तैयार बिचड़ा की रोपनी के लिए किसान परेशान हैं।

सही समय में बारिश नहीं होने के कारण किसान डीजल पंपों से सिंचाई कर धनरोपनी का काम कर रहे हैं।

जहां पटवन की व्यवस्था है, वहां धनरोपनी शुरू कर दी गयी है, जबकि अन्य जगहों पर रोपनी शुरू नहीं की जा सकी है।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button