झारखंड : मुठभेड़ में मारा गया 10 लाख का इनामी पीएलएफआई उग्रवादी शनिचर सुरीन

उग्रवादियों को पुलिस के बीच दो घंटे चली मुठभेड़, कई हथियार बरामद होने की सूचना

खूंटी: खूंटी, पश्चिमी सिंहभूम, सिमडेगा सहित कई जिलों में आतंक का पर्याय बन चुका दस लाख का इनामी पीएलएफआई उग्रवादी को पुलिस ने शनिवार की रात मुठभेड़ में मार गिराया।

सीआरपीएफ और खूंटी जिला पुलिस की टीम ने खूंटी जिले के रनिया और पश्चिमी सिंहभूम के गुदड़ी के बीच स्थित जंगल में शनिचर सुरीन को मार गिराया।

पुलिस सूत्रों के अनुसार पुलिस को उक्त जंगल में पीएलएफआई उग्रवादियों के जमावड़े की सूचना पाकर पुलिस और सीआरपीएफ 94 बटालियन ने जंगल की घेराबंदी की। पुलिस को देखते ही पीएलएफआई उग्रवादियों ने फायरिंग शुरू कर दी।

पुलिस ने भी मुंहतोड़ जवाब दिया। लगभग दो घंटे तक चली मुठभेड़ में मोस्ट वांटेड शनिचर सुरीन मारा गया।

बताया गया कि मुठभेड़ के बाद सर्च ऑपरेशन में सीआरपीएफ और पुलिस की टीम ने कई हथियार भी बरामद किए हैं।

इसके पहले गत दिसंबर महीने में खूंटी जिले के मुरहू और बंदगांव की सीमा स्थित कोयंगसार जंगल में पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में 15 लाख का इनामी पीएलएफआई का जोनल कमांडर जिदन गुड़िया मारा गया था।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button