हजारीबाग के इस स्कूल से लीक हुआ था NEET UG का पेपर, जांच में हुआ खुलासा

Digital Desk

NEET UG Paper Leak : NEET UG परीक्षा में गड़बड़ियों का मामला और व्यापक रूप लेते जा रहा है। अब तो इसका झारखंड (Jharkhand) कनेक्शन भी स्पष्ट हो चुका है।

जांच से पता चला है कि पटना (Patna) के रामकृष्णा नगर स्थित एक निजी स्कूल से बरामद हुआ NEET UG 2024 का अधजला जब्त प्रश्न पत्र का सीरियल कोड हजारीबाग (Hazaribagh) के मंडई रोड स्थित ओएसिस स्कूल (Oasis School) परीक्षा केंद्र से लीक हुआ था।

बिहार पुलिस की आर्थिक अपराध इकाई (EOU) के सत्यापन में प्रथमदृष्टया इस परीक्षा केंद्र से प्रश्न पत्र की पैकिंग के संदिग्ध पॉलीबैग, संबंधित अभ्यर्थी से बरामद मूल प्रश्न पत्र की पैकिंग और संबंधित पैकिंग ट्रंक में इन सभी के साथ छेड़छाड़ होना पाया गया है।

EOU ने आधिकारिक रूप से इसकी जानकारी देते हुए बताया है कि सभी सबूतों को जब्त कर लिया गया है।

एक दिन पहले मिल गया था पेपर

EOU ने स्पष्ट किया है कि प्रश्न पत्र की सॉल्वड pdf कॉपी संजीव कुमार उर्फ लूटन मुखिया के माध्यम से गिरफ्तार अभियुक्त बालदेव कुमार उर्फ चिंटू के मोबाइल पर परीक्षा तिथि यानी पांच मई 2024 की सुबह पहुंची थी।

इसके बाद उसे अभ्यर्थियों को रटवाया गया। EOU ने बताया कि जब्त अधजले प्रश्न के सीरियल कोड से संबंधित जानकारी 20 जून को NTA से मिलने के बाद स्पष्ट हुआ कि उक्त सीरियल कोड हजारीबाग के मंडई रोड के कल्लू चौक स्थित ओएसिस स्कूल का है।

पैकिंग ट्रंक में छेड़छाड़ का आया मामला

इसके बाद EOU की टीम ने हजारीबाग जाकर इसका सत्यापन किया। सत्यापन में पैकिंग ट्रंक में प्रथमदृष्टया छेड़छाड़ होना पाया गया है।

इसके बाद संबंधित परीक्षा केंद्र, SBI बैंक शाखा और ब्लू डार्ट कंपनी के दफ्तरों में संबंधित कर्मियों का बयान लिया गया है।

EOU ने कहा कि प्रश्न पत्रों के ट्रांसपोर्टेशन, स्टोरेज व हैंडओवर-टेकओवर में एनटीए के निर्धारित मानकों का पालन नहीं किया गया।

इसके कारण प्रश्न पत्रों के बक्सों और लिफाफों में हुई छेड़छाड़ नहीं पकड़ी जा सकी। इसको देखते हुए पूरी ” चेन ऑफ कस्टडी ” में किस स्तर पर और किस समय प्रश्न पत्र का लीकेज हुआ, इस संबंध में जांच चल रही है।

इंटर स्टेट गैंग की संलिप्तता

EOU ने स्पष्ट किया है है कि इस कांड में संगठित अंतरराज्यीय पेशेवर गिरोह की संलिप्तता सामने आई है।

जांच में पता चला है कि शनिवार को झारखंड के देवघर से गिरफ्तार बालदेव कुमार उर्फ चिंटू को ही परीक्षा के दिन यानि पांच मई 2024 की सुबह सॉल्वड प्रश्न पत्र की PDF कॉपी मिली थी।

चिंटू प्रश्न पत्र लीक कांड के पेशेवर अपराधी संजीव कुमार उर्फ लूटन मुखिया गिरोह से जुड़ा है।

PDF कॉपी मिलने के बाद चिंटू ने रामकृष्णा नगर स्थित स्कूल में रखे प्रिंटर से प्रतियां निकाल कर अभ्यर्थियों का ग्रुप बना कर उनको रटवाया।

हमें Follow करें!

x