झारखंड

लातेहार में बर्ड फ्लू की जांच के लिए लिया गया था मुर्गों का सैंपल, भोपाल से आ गयी जांच रिपोर्ट, जानिये क्या है इसमें

लातेहार जिला के लातेहार और मनिका समेत अन्य प्रखंडों में बर्ड फ्लू (Bird Flu) की पुष्टि नहीं हुई है। इन प्रखंडों के पोल्ट्री फार्म से पशुपालन विभाग की टीम ने अप्रैल में बर्ड फ्लू की जांच के लिए मुर्गों का सैंपल लिया था।

Latehar Bird Flu: लातेहार जिला के लातेहार और मनिका समेत अन्य प्रखंडों में बर्ड फ्लू (Bird Flu) की पुष्टि नहीं हुई है। इन प्रखंडों के पोल्ट्री फार्म से पशुपालन विभाग की टीम ने अप्रैल में बर्ड फ्लू की जांच के लिए मुर्गों का सैंपल लिया था।

अब इसकी जांच रिपोर्ट आ गयी है। इस जांच रिपोर्ट में बर्ड फ्लू की पुष्टि नहीं हुई है। रिजल्ट निगेटिव आया है।

जिला पशुपालन पदाधिकारी देवनाथ कुमार चौरसिया ने जानकारी दी कि बर्ड फ्लू के खतरे को देखते हुए अप्रैल में लातेहार, मनिका, बरवाडीह व अन्य प्रखंडों के पोल्ट्री फार्मों से सैंपल लिये गये थे।

सैंपल को रांची के कांके स्थित इंस्टीट्यूट ऑफ एनिमल हेल्थ एंड प्रोडक्शन भेजा गया था। वहां से सैंपल को कोलकाता स्थित Regional Diagnostic Lab भेजा गया था।

उसके बाद वहां से सैंपल के पुख्ता रिजल्ट के लिए भोपाल स्थित Institute of High Security Animal Disease Diagnosis सेंटर भेजा गया था। वहां जांच का रिजल्ट निगेटिव आया है।

फिर से लिया जा रहा सैंपल

चौरसिया ने बताया कि संभावित बर्ड फ्लू के खतरे को देखते हुए दोबारा विभिन्न प्रखंडों से सैंपल लिया जा रहा है। सैंपल इकट्ठा करने के दौरान टीम पूरी सावधानी बरत रही है।

Poultry Farm के संचालकों को बर्ड फ्लू से निपटने की जानकारी दी जा रही है, साथ ही यह भी बताया जा रहा है कि इसकी रोकथाम कैसे की जाये।

उन्होंने बताया कि बर्ड फ्लू की आशंका मिलने पर मृत पक्षी को जमीन से चार फीट नीचे गड्ढा कर दबाने का निर्देश है और इसकी सूचना तत्काल रैपिड रिस्पॉन्स टीम को देने को कहा गया है।

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker