झारखंड

होटवार जेल में IAS पूजा सिंघल की कटी रात

News groupe Whatsapp

रांची: आय से अधिक संपत्ति के मामले में बुधवार को गिरफ्तार IAS पूजा सिंघल को रांची के होटवार स्थित बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा भेजा गया।

पूजा सिंघल रात के करीब 10 बजे जेल पहुंचीं। उन्हें महिला वार्ड में रखा गया है। जेल में उन्होंने किसी से भी बात नहीं की और अपने सेल में बैठी रहीं।

जेल का मेन गेट खुलते ही IAS पूजा सिंघल का ब्लड प्रेशर काफी बढ़ गया। इसके बाद डॉक्टरों को जांच के लिए बुलाया गया।

इसके बाद उन्हें ब्लड प्रेशर की दवा भी दी गई। दवा खाने के बाद पूजा सिंघल का ब्लड प्रेशर नार्मल हुआ। इसके बाद पूजा सिंघल को महिला वार्ड में भेज दिया गया।

गुरुवार से ईडी उन्हें पांच दिनों की रिमांड पर लेगी। इस संबंध में अधिवक्ता ने बताया कि बुधवार की शाम पूजा सिंघल को गिरफ्तार करने के बाद रात में जज कॉलोनी में एडिशनल ज्यूडिशियल कमिश्नर और स्पेशल जज प्रभात कुमार शर्मा के आवासीय कोर्ट में पेश किया गया।

इस दौरान ईडी ने 12 दिनों की रिमांड की मांग की, लेकिन न्यायाधीश ने पांच दिनों के रिमांड की स्वीकृति दी। चूंकि रिमांड की अवधि 12 मई से शुरू हो रही है, इसलिए 11 मई की रात तक के लिए उन्हें जेल भेजा गया है।

मंगलवार और बुधवार को ईडी ने पूजा सिंघल को पूछताछ के लिए बुलाया था। दोनों दिन आठ से नौ घंटे तक पूछताछ के बाद उन्हें गिरफ्तार किया गया।

उनसे शेल कंपनियों में निवेश, कैश की बरामदगी, मनरेगा घोटाले से संबंधित सवाल किये गये। सूत्रों के अनुसार ईडी के अधिकारियों के कई सवालों का पूजा सिंघल जवाब नहीं दे पायीं।

पूजा सिंघल के खिलाफ निलंबन की प्रक्रिया शुरू

गिरफ्तार आईएएस पूजा सिंघल के निलंबन की प्रक्रिया शुरू हो गयी है। ईडी ने पूजा सिंघल की गिरफ्तारी की सूचना राज्य सरकार को भेज दी है। इसी के आलोक में अब पूजा सिंघल के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई होगी।

उल्लेखनीय है कि ईडी ने आईएएस पूजा सिंघल और उनके करीबियों से जुड़े करीब 25 ठिकानों पर दो दिन तक छापेमारी की थी।

इस दौरान 19.31 करोड़ रुपये और लगभग 300 करोड़ के दस्तावेज जब्त किये गये थे। इसके बाद ईडी ने आईएएस पूजा सिंघल को समन नोटिस भेज पूछताछ के लिए बुलाया था।

ईडी पिछले दो दिन से आईएएस पूजा सिंघल के पति अभिषेक झा से पूछताछ कर रही है। पूछताछ ईडी के एयरपोर्ट स्थित ऑफिस में की गई। ईडी ने पूजा के पति और सीए सुमन कुमार को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ की थी।