अमेरिका की क्रिकेट लीग में इन्वेस्ट करेगी नाइट राइडर्स फ्रेंचाइजी

नई दिल्ली: इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में कोलकाता नाइट राइडर्स की मालिक द नाइट राइडर्स ग्रुप अमेरिका की मुख्य क्रिकेट लीग-मेजर लीग क्रिकेट (एमएलसी) में निवेश करेगी।

द नाइट राइडर्स ग्रुप की अपनी टीम कैरेबियन प्रीमियर लीग (सीपीएल) में भी खेलती है, जिसका नाम त्रिन्बागो नाइट राइडर्स है। एमएलसी टूर्नामेंट 2022 में शुरू होने की उम्मीद है।

नाइट राइडर्स ग्रुप में बॉलीवुड अभिनेत्री जूही चावला और उनके पति जय मेहता के साथ बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान का निवेश है और अब वे अमेरिका की छह टीमों की टी 20 लीग चलाने में मदद करने के लिए एक रणनीतिक दीर्घकालिक निवेश का हिस्सा है।

शाहरूख खान ने एक बयान में कहा, कुछ समय से हम नाइट राइडर्स फ्रेंचाइजी को वैश्विक तौर पर बढ़ाने का मौका तलाश रहे थे।

इसी के तहत हम अमेरिका में शुरू होने वाली टी-20 लीग के आयोजकों के संपर्क में भी थे। दुनिया में जहां भी कोई बड़ी क्रिकेट लीग होगी, हम वहां निवेश करने के मौके तलाशेंगे।

अमेरिका क्रिकेट एंटरप्राइसेस (एसीई) ने घोषणा की है कि नाइट राइडर्स फ्रेंचाइजी उनके मेजर लीग क्रिकेट (एमएलसी) में बड़े इन्वेस्टर की भूमिका निभाएगी।

कोलकाता नाइट राइडर्स के सीईओ वेंकी मैसूर ने कहा, हमें अमेरिका में क्रिकेट के विकास में गहरी दिलचस्पी थी और अमेरिका में हमारा विस्तार हमारी दीर्घकालिक रणनीति का हिस्सा है।

उन्होंने कहा, हम दुनिया के सबसे परिष्कृत खेल और मीडिया बाजार में क्रिकेट के निर्माण की नई चुनौती का सामना करने के लिए तैयार हैं।

हमारा मानना है कि मेजर लीग क्रिकेट को निसंदेह अपनी क्षमता का एहसास कराने में मदद करने के लिए हम विशेषज्ञता ला सकते हैं।

अमेरिका में अगर एमएलसी लीग की शुरूआत होती है तो यह अमेरिका में पहली पेशेवर लीग होगी।

यह टूर्नामेंट 2021 में चार जुलाई से शुरू होना था, लेकिन कोरोना वायरस महामारी के कारण इसे स्थगित कर दिया गया था।

अमेरिकी टी-20 लीग में छह टीमें न्यूयॉर्क, सैन फ्रांसिस्को, वॉशिंगटन डीसी, शिकागो, डलास और लॉस एंजिलिस भाग लेगी

एसीई के को-फाउंडर्स में से एक विजय श्रीनिवासन ने कहा, नाइट राइडर्स इस लीग क्रिकेट में हिस्सा बन रहा है।

इससे अमेरिका में क्रिकेट को फायदा मिलेगा। यह अच्छा है कि वह शुरूआत में ही हमारे साथ जुड़ रहे हैं।

उनका इन्वेस्टमेंट हमारे प्लान्स को भी वैलिडेट करता है। अमेरिका में क्रिकेट के भविष्य को लेकर यह लॉन्ग-टर्म इन्वेस्टमेंट है।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button