राज्यसभा चुनाव में सुशील मोदी के खिलाफ लोजपा नहीं उतारेगी प्रत्याशी

पटना: लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के संस्थापक व पूर्व केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान के निधन से खाली हुई राज्यसभा सीट पर लोजपा अपना उम्मीदवार नहीं उतारेगी।

राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) ने इसके लिए पहले ही भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता व पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी का नाम तय कर दिया है।

इस चुनाव को लेकर मुख्य विपक्षी पार्टी राजद ने अभी तक अपने पत्ते नहीं खोले हैं।

राजद ने हालांकि लोजपा को पासवान की पत्नी रीना पासवान को चुनाव में उतारने का आफर देते हुए कहा था कि अगर लोजपा रीना पासवान को चुनाव मैदान में उतारती है, तो राजद समर्थन करेगा।

इधर, लोजपा ने राजद के इस ऑफर को नकार दिया है।

लोजपा के मीडिया प्रभारी कृष्ण सिंह कल्लू ने इसे स्वीकार करते हुए कहा है कि महागठबंधन के कुछ नेताओं ने ऐसा प्रस्ताव दिया था, लेकिन चिराग पासवान ने उसे मानने से इनकार कर दिया।

लोजपा ने भी मंगलवार को अपने अधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर भी लिखा है,

लोजपा व दलित सेना के संस्थापक राम विलास पासवान जी के निधन के बाद से रिक्त पड़ी राज्यसभा की सीट पर चुनाव है।

राज्यसभा की यह सीट संस्थापक के लिए थी, जब पार्टी के संस्थापक ही नहीं रहे तो यह सीट भाजपा किसको देती है यह उनका निर्णय है।

ट्वीट कर आगे लिखा गया, राजद के कई साथी अपना समर्थन इस सीट पर लोजपा प्रत्याशी के लिए करने की बात की है।

उनके समर्थन के लिए पार्टी आभार व्यक्त करती है। इस राज्य सभा सीट पर लोजपा का कोई भी व्यक्ति चुनाव नहीं लड़ना चाहता है।

इस रिक्त हुई सीट के लिए तीन दिसंबर तक नामांकन होगा। वहीं 14 दिसंबर को चुनाव होगा। महागठबंधन भी इस चुनाव में प्रत्याशी उतारने पर विचार कर रहा है।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button