OMG! 300 कार में सैकड़ों लोगों को लेकर रांची आई बारात, पूर्व सांसद के भाई के खिलाफ FIR दर्ज

रांची: कोरोना की चेन तोड़ने को लेकर एक ओर जहां रांची समेत राज्यभर में लॉकडाउन में सख्ती बढ़ाई जा रही है। वहीं, बरियातू थाने क्षेत्र में रविवार को लाॅकडाउन उल्लंघन का एक ऐसा मामला सामने आया जिससे सभी लोग हतप्रभ रह गए हैं।

जी हां, महाराजगंज (बिहार) के पूर्व सांसद प्रभुनाथ सिंह के भाई दीनानाथ सिंह अपने बेटे अभिषेक सिंह की बारात छपरा के मशरख से 300 कार में सैकड़ों लोगों को लेकर रांची पहुंच गए।

ऐसे में बड़गाईं के सीओ वीरेंद्र कुमार साहू के बयान पर दीनानाथ सिंह के अलावा दुल्हन के पिता प्रमोद कुमार सिंह व मोरहाबादी के बोड़ेया रोड स्थित गीतांजलि बैंक्वेट हॉल के मालिक विनोद गोप सहित 60-65 अज्ञात लोगों के खिलाफ थाने में एफआईआर दर्ज कराई गई।

क्या हैं बंदिशें

बता दें कि राज्य में लागू स्वास्थ्य जागरूकता सप्ताह के दौरान 15 मई की शाम तक शादी-समारोह में अधिकतम 50 लोगों के ही शामिल होने की छूट थी।

यह छूट भी स्वास्थ्य विभाग की गाइडलाइंस के आधार पर ही दी गई थी, जिसमें मास्क व शारीरिक दूरी का पालन करना अनिवार्य था।

इसके बाद भी शादी समारोह में गाइडलाइन की धज्जियां उड़ाई गईं। आनन-फानन में जांच का आदेश दिया गया।

Bidaai - Shaadi Bhagya Scheme - Eligibility & Application - IndiaFilings

इधर, नए नियम के मुताबिक 16 मई की सुबह 6 बजे से 27 मई तक शादी समारोह में अधिकतम 11 लोगों को ही शामिल होने की छूट दी गई है।

सीओ ने जांच के बाद की कार्रवाई

प्रशासन को सूचना मिली कि दीनानाथ सिंह 14 मई को मशरख से अपने बेटे की बारात में करीब 300 छोटी गाड़ियां लेकर रांची आए थे।

इस सूचना के सत्यापन व जांच की जिम्मेदारी बड़गाईं के सीओ वीरेंद्र कुमार साहू को दी गई थी।

उन्होंने अपनी जांच में पाया कि उक्त शादी समारोह में कोविड-19 की गाइडलाइंस का उल्लंघन किया गया।

विवाह समारोह में शामिल लोगों ने न शारीरिक दूरी का पालन किया और न ही मास्क लगाया था।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button