देश की राजधानी दिल्ली में टीएनएज गल्र्स की प्रेग्नेंसी का तेजी से बढ़ रहा ग्राफ, नेशनल सर्वे की रिपोर्ट जानकर आप भी रह जाएंगे दंग

रूरल एरिया की रिपोर्ट और भी हैरत करने वाली

नई दिल्ली: नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे (NFHS5 Survey) की रिपोर्ट चैंकानेवाली है। जहां भारत की राजधानी दिल्ली में 15 से 19 साल तक की लड़कियों के गर्भवती होने के आंकड़ों में तेजी से वृद्धि देखी गई है।

पहले की अपेक्षा इस उम्र की टीनएज और नाबालिग लड़कियां अब ज्यादा प्रेग्नेंट होने लगी हैं। आलम ये है कि दिल्ली में इस टीनएज ग्रुप की लड़कियों के गर्भवती होने की दर 3.3% है।

जो कि पिछले साल किए गए सर्वे से 1.2% ज्यादा है। पहले यह दर 2.1% थी। सर्वे के मुताबिक, सर्वे के दौरान इस उम्र की कई लड़कियां मिलीं जो उस वक्त मां बन चुकी थी या फिर गर्भवती थी।

रूरल एरिया की रिपोर्ट और भी हैरत करने वाली

इस रिपोर्ट में एक और चौंकाने देने वाला तथ्य सामने आया। दिल्ली के ग्रामीण इलाकों में इस उम्र की लड़कियों के प्रेग्नेंट होने की दर 9.73% थी।

जबकि शहरी इलाकों में यह दर 3.2% है। यानी शहर की अपेक्षा ग्रामीण इलाकों में नाबालिग लड़कियां ज्यादा मां बन रही हैं। इस सर्वे में इसके पीछे का कारण भी बताया गया।

यह है टीनएज में प्रेग्नेंसी की वजह

विशेषज्ञों ने बताया कि इनमें कई लड़कियां ऐसी हैं जो रेप के बाद या जबरन संबंध बनाए जाने के बाद गर्भवती हो गईं।

कई लड़कियां अपनी सहमति से ऐसा करती हैं और जाने.अनजाने में प्रेग्नेंट हो जाती हैं। कम उम्र में शादी होना भी इसके पीछे की एक बड़ी वजह है।

कई जगह कम उम्र में लड़कियों की शादी की जाती है और वो कम उम्र में ही मां बन जाती है। कई लड़कियों के तो चोरी छुपे अबॉर्शन भी करा दिए जाते हैं।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button