झारखंड

हजारीबाग के रूपेश पांडे मामले में राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग के अध्यक्ष पहुंचे रांची

घटना की जानकारी मिलने के बाद वह मृतक के परिजनों से मुलाकात करने पहुंचे हैं

रांची: राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) के अध्यक्ष प्रियंक कानूनगो रविवार को रांची पहुंचे।

आयोग ने झारखंड के हजारीबाग के बरही में सरस्वती प्रतिमा के विसर्जन के दौरान मारे गए रूपेश पांडे के मामले पर संज्ञान लिया है।

बताया गया है कि इसी मामले को लेकर राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग के अध्यक्ष प्रियंक कानूनगो रविवार को रांची पहुंचे हैं।

यहां उन्होंने बताया कि घटना की जानकारी मिलने के बाद वह मृतक के परिजनों से मुलाकात करने पहुंचे हैं वे सारी वास्तविक जानकारी लेंगे। इसके अलावा इस मामले में जो भी पुलिस अधिकारी जांच कर रहे हैं, उनसे भी बातचीत करेंगे।

इस मामले में प्रियंक कानूनगो ने बताया कि उन्हें जानकारी मिली है कि पूरे मामले में कई बच्चों को डीटेंड किया गया है, जो कि उचित नहीं है।

उन्होंने बताया कि आयोग बच्चों के अधिकारों का किसी भी कीमत पर हनन होने नहीं देगा। रूपेश पांडेय हत्याकांड मामला बहुत ही गंभीर है।

इसीलिए सरकार की तरफ से वह पूरे मामले की निष्पक्षता के साथ जांच करेंगे और मृतक और उनके परिजन को न्याय दिलाएंगे।

उल्लेखनीय है कि रूपेश पांडेय के परिजनों से बरही मिलने जाने के दौरान कई नेताओं को रोका गया था।

इसमें झारखंड भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश और दिल्ली के पूर्व विधायक कपिल मिश्रा शामिल हैं। घटना की गंभीरता को देखते हुए राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग ने संज्ञान लिया है.