बंगाल में पहले चरण के मतदान के लिए आज जारी होगी अधिसूचना

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में चुनावी समर का आगाज हो चुका है। मंगलवार को पहले चरण के मतदान के लिए अधिसूचना जारी हो जाएगी।

आयोग की घोषणा के मुताबिक पहले चरण में राज्य के पांच जिलों की 30 विधानसभा सीटों के लिए वोट पड़ेंगे। इनमें पुरुलिया, पूर्व व पश्चिम मेदिनीपुर, झारग्राम और बांकुड़ा जिले शामिल हैं।

पुरुलिया व झारग्राम की सभी विधानसभा सीटों के लिए मतदान होंगे जबकि पूर्व व पश्चिम मेदिनीपुर और बांकुड़ा की कुछ सीटों के लिए वोट पड़ेंगे। वहां की बाकी सीटों के लिए दूसरे चरण में मतदान होगा।

पहले चरण में नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि नौ मार्च है और 10 मार्च तक नामांकन की स्क्रूटनी की जा सकेगी। नामांकन वापस लेने की अंतिम तिथि 12 मार्च है।

उल्लेखनीय है कि बंगाल में इस बार आठ चरणों में विधानसभा चुनाव होंगे। चुनाव की तारीखों के ऐलान के साथ ही बंगाल में आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है।

आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद राज्य सरकार क्या-क्या कर सकती है और क्या नहीं, इसे लेकर राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी आरिज आफताब की ओर से सभी जिलाधिकारियों को दिशा-निर्देश भेजा जा चुका है।

इसे लेकर राज्य के मुख्य सचिव अलापन बंद्योपाध्याय की अगुवाई में तीन सदस्यीय स्क्रीनिंग कमेटी भी गठित की गई है, जिसमें गृह सचिव हरिकृष्ण द्विवेदी भी शामिल हैं।

सूबे में कहीं भी आचार संहिता उल्लंघन कि शिकायत का निपटान करने की जिम्मेदारी इसी कमेटी की है।

आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद बंगाल में नए सिरे से कोई विकासमूलक कार्य नहीं किया जा सकेगा हालांकि जो काम पहले से चल रहे हैं, वे जारी रहेंगे।

जारी परियोजनाओं को लेकर किसी तरह की समस्या होने पर स्क्रीनिंग कमेटी उसपर निर्णय लेगी।

इसके अलावा विधानसभा चुनाव तारीखों की घोषणा होने के बाद से ही राज्य भर में भाजपा और तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के बीच टकराव शुरू हो गया है।

राज्यभर के प्रशासन पर सत्तारूढ़ पार्टी की मदद का आरोप लगने लगा है जिसे लेकर स्क्रीनिंग कमेटी ने निगरानी और जांच शुरू की है।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button