बिहार

बिहार के गोपालगंज शहर में नूपुर शर्मा के सपोर्ट में लगे पोस्टर

सोशल मीडिया पर पोस्टर को जमकर वार किया जा रहा है

पटना:  बिहार के गोपालगंज (Gopalganj) में भाजपा की निलंबित नेता नूपुर शर्मा के समर्थन में हिंदूवादी संगठनों ने शहर में पोस्टर लगाए हैं।

रातों-रात शहर के शैक्षणिक संस्थान, पार्क, मंदिर और चौक-चौराहों पर नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्टर लगाये जाने के बाद पुलिस और खुफिया विभाग अलर्ट हो गया है।

उधर, सोशल मीडिया पर पोस्टर को जमकर वार किया जा रहा है। नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) की पोस्टर पर उनकी तस्वीर के साथ लिखा गया है ‘आई सपोर्ट नूपुर शर्मा’।

बिहार के गोपालगंज शहर में नूपुर शर्मा के सपोर्ट में लगे पोस्टर

इससे पहले मुस्लिम संगठनों ने रविवार को नूपुर शर्मा के विरोध में प्रदर्शन जुलूस निकालने का आह्वान किया था, जिसे प्रशासन ने अनुमति नहीं दी।

इसके बाद एक मुस्लिम संगठन ने नूपुर के खिलाफ नगर थाने में एफआईआर दर्ज कराने के लिए लिखित शिकायत की थी।

दूसरी तरफ सोशल साइट पर नूपुर शर्मा के समर्थन और विरोध के कई पोस्ट शेयर (Post Share) किए जा रहें हैं।

गोपालगंज की आईटी सेल (IT Cell) ने सोशल साइट्स पर भड़काऊ पोस्ट करने वाले की सूची तैयार करनी शुरू कर दी और ऐसे लोगों की फेसबुक आईडी पर निगरानी भी बढ़ा दी है।

बिहार के गोपालगंज शहर में नूपुर शर्मा के सपोर्ट में लगे पोस्टर

तीन जून को कानपुर में हिंसा हुई

एसडीपीओ सदर संजीव कुमार ने बताया कि पुलिस रविवार रात 11 बजे तक अलर्ट थी। इसके बाद भी पुलिस गश्त कर रही थी।

पोस्टर लगाने के मामले में जांच की जा रही है। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पोस्टर चस्पा करने वालों को चिह्नित किया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि नूपुर शर्मा ने एक टीवी डिबेट (TV debate) के दौरान पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी की थी। इसके बाद से लगातार मुस्लिम समाज उनका विरोध कर रहा है।

तीन जून को कानपुर में हिंसा हुई। इसके बाद 10 जून को प्रयागराज, रांची समेत कई जगहों पर हिंसा हुई। हालांकि, नूपुर शर्मा ने अपने बयान पर माफी मांग ली है।

उधर भाजपा ने भी उनको पार्टी से निलंबित कर दिया है। पार्टी ने अपने प्रवक्ता और कार्यकर्ताओं को किसी भी तरह के बयान न देने का आदेश दिया है।