भारत

लैंड फॉर जॉब मामले में राबड़ी देवी, मीसा भारती और अन्य दो को एंटरिम बेल, अब…

Land For Job Case: दिल्ली के राऊज एवेन्यू कोर्ट (Rouse Avenue Court) ने ED के लैंड फॉर जॉब मामले (Land For Job Case) में आरोपी बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी (Rabri Devi), मीसा भारती (Misa Bharti) और हिमा यादव (Hima Yadav) के साथ ह्रदयानंद चौधरी (Hridanand Chaudhary) को अंतरिम जमानत दे दी।

स्पेशल जज विशाल गोगने ने मामले की अगली सुनवाई 28 फरवरी को करने का आदेश दिया। इससे पहले आज सुबह राबड़ी देवी, मीसा भारती, हिमा यादव और Hridayanand Chaudhary Court में पेश हुए। कोर्ट ने 27 जनवरी को ED की चार्जशीट पर संज्ञान लिया था।

मामले में ED से पहले CBI ने भी केस दर्ज किया था

कोर्ट ने राबड़ी, मीसा, हिमा यादव और ह्रदयानंद चौधरी को समन जारी कर पेश होने का निर्देश दिया। साथ ही इस मामले में गिरफ्तार (Arrested) अमित कात्याल के खिलाफ प्रोडक्शन वारंट (Production Warrant) जारी किया था। इस मामले में ED से पहले CBI ने भी केस दर्ज किया था। यह केस भीराऊज एवेन्यू कोर्ट में चल रहा है।

CBI से जुड़े मामले में कोर्ट ने चार अक्टूबर, 2023 को बिहार के तत्कालीन उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव, लालू प्रसाद यादव और राबड़ी देवी को जमानत दी थी। कोर्ट ने 22 सितंबर, 2023 को CBI की ओर से दाखिल दूसरी चार्जशीट पर संज्ञान लिया था।

3 जुलाई, 2023 को CBI ने पूरक Charge Sheetदाखिल की था। कोर्ट ने 27 फरवरी, 2023 को इन तीनों समेत सभी आरोपितों के खिलाफ दाखिल Charge Sheet पर संज्ञान लिया था। सात अक्टूबर 2022 को लैंड फॉर जॉब मामले में CBI ने लालू प्रसाद यादव , राबड़ी देवी और मीसा भारती समेत 16 के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की थी।

लालू यादव के परिजनों से जुड़े 17 ठिकानों पर छापेमारी

Land For Job घोटाला मामले में CBI ने भोला यादव और हृदयानंद चौधरी को गिरफ्तार (Arrest) किया था। भोला यादव 2004 से 2009 तक लालू यादव के ओएसडी रहे थे। Land For Job घोटाला लालू यादव के रेलमंत्री रहने के दौरान का है।

भोला यादव को ही इस घोटाले का Mastermind माना जा रहा है। आरोप है कि लालू यादव के रेलमंत्री रहते नौकरी के बदले जमीन देने के लिए कहा जाता था। नौकरी के बदले जमीन देने के काम को अंजाम देने का काम भोला यादव को सौंपा गया था।

भोला यादव 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) में बहादुरपुर सीट से विधायक चुने गए थे। CBI ने मई के तीसरे सप्ताह में इस मामले में लालू यादव के परिजनों से जुड़े 17 ठिकानों पर छापेमारी की थी। CBI ने लालू यादव, उनकी पत्नी राबड़ी देवी और बेटी मीसा भारती के पटना, गोपालगंज और दिल्ली स्थित ठिकानों पर छापा मारा था।

Back to top button
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker