अपराधियों के खिलाफ पुलिस ने छेड़ा अभियान, जरा सा इधर-उधर करने पर…

News Aroma Desk

Ramgarh Crime: रामगढ़ (Ramgarh ) जिले में अपराध के खिलाफ पुलिस ने लगातार कार्रवाई कर यह स्पष्ट कर दिया है कि अपराधियों को संरक्षण नहीं मिलेगा।

SP डॉ बिमल कुमार ने साफ संकेत देते हुए कहा कि अपराध का दामन छोड़कर मुख्य धारा में अपराधी शामिल हो जाएं। अन्यथा वे रामगढ़ जिला छोड़ दें, कार्रवाई होनी निश्चित है।

सोमवार को Press Conference में जानकारी देते हुए SP ने बताया कि जिले में पिछले कुछ दिनों में लगातार अपराधियों की गिरफ्तारी हुई है।

अपराधी चाहे किसी भी संगठन से जुड़े हों या फिर वे अपना गिरोह चल रहे हों, किसी को भी छोड़ा नहीं जाएगा। उन्होंने बताया कि चोरों और नशीले पदार्थों के तस्करों पर भी कार्रवाई चल रही है।

बरकाकाना में 90 हजार के गांजा के साथ तस्कर गिरफ्तार

SP ने बताया कि पतरातू SDPO के नेतृत्व में बरकाकाना ओपी क्षेत्र में छापेमारी के दौरान 1 किलो 800 ग्राम गांजा (Ganja) के साथ एक तस्कर को गिरफ्तार किया गया है।

तस्कर दीपक कुमार उर्फ प्रभाकर बरकाकाना सीआईसी बस्ती का रहने वाला है। उसके पास से गांजा के अलावा 299 पीस गोगो, 47 पीस चिलम, Electronic तराजू और एप्पल कंपनी का मोबाइल भी बरामद किया गया है।

SP ने बताया कि दीपक के खिलाफ पुलिस को लगातार गुप्त सूचना मिल रही थी। जब तो सामानों की कीमत 90 हजार से अधिक है।

24 घंटे में बरामद की गई चोरी की बाइक

SP ने बताया कि रामगढ़ थाना क्षेत्र में चोरी हुई एक बाइक 24 घंटे में बरामद कर ली गई। साथ ही एक चोर सूरज कुमार उर्फ छोटू को गिरफ्तार भी कर लिया गया है।

उन्होंने बताया कि 31 मार्च को Ifico Colony पानी टंकी के पास से सीडी डीलक्स मोटरसाइकिल जेएच 10 एक्स 0962 चोरी कर ली गई थी। पुलिस ने इस मामले में प्राथमिक (FIR) की दर्ज कर तत्काल अभियान शुरू किया।

Anti Crime Checking के दौरान रामगढ़ थाना चौक पर उस चोर को मोटरसाइकिल के साथ गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तार सूरज कुमार उर्फ छोटू रामगढ़ शहर के न्यू कॉलोनी बगीचा बड़की काली मंदिर के पास का रहने वाला है। पूछताछ के दौरान उसने बताया कि उस बाइक की चोरी उसने खुद की थी।

20 साल से फरार इनामी हत्यारे को भी किया गया गिरफ्तार

SP डॉ बिमल कुमार ने बताया कि 20 साल से फरार इनामी हत्यारे डेगलाल महतो को भी गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि वह कुख्यात अपराधी 20 सालों से पुलिस की आंखों में धूल झोंक रहा था। उसको गिरफ्तार करने के लिए पुलिस मुख्यालय ने इनाम की भी घोषणा की थी।

इस गिरफ्तारी के बाद यह स्पष्ट हो गया है कि अगर किसी ने पहले भी अपराध किया है या फिर वह अभी भी अपराध की योजना बना रहा है, तो Ramgarh जिले में उसे किसी भी तरह की सुरक्षा नहीं मिलने वाली। हर हाल में उसे सलाखों के पीछे भेजा जाएगा।

Share This Article