झारखंड

Ranchi : ओवैसी की सभा में नहीं नजर आए प्रत्याशी देव कुमार धान

ओवैसी ने चुनाव प्रचार के दौरान जमकर केंद्र सरकार और राज्य सरकार को कोसा, उन्होंने कांग्रेस को भी निशाना बनाते हुए कहा कि यह पार्टी अब बूढी हो चली है, जिसका फायदा भाजपा को जीत के रूप में मिलता है

रांची : AIMI के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी भाजपा के बागी विधायक देव कुमार धान के प्रचार-प्रसार के लिए मांडल विधानसभा क्षेत्र के चान्हो क्षेत्र पहुंचे, लेकिन देव कुमार धान किसी कारणवश मंच पर नहीं पहुंचे और उनकी जगह पर उनकी धर्मपत्नी ने मंच का प्रतिनिधित्व किया।

ओवैसी ने चुनाव प्रचार के दौरान जमकर केंद्र सरकार और राज्य सरकार को कोसा। उन्होंने कांग्रेस को भी निशाना बनाते हुए कहा कि यह पार्टी अब बूढी हो चली है, जिसका फायदा भाजपा (BJP)  को जीत के रूप में मिलता है।

जब यह पार्टी पूरी तरह से समाप्त हो जाएगी, तब भाजपा भी समाप्त हो जाएगी। इस बीच भारी वर्षा होने के बाद भी ओवैसी के समर्थक डटे रहे और करीब 45 मिनट तक भीगते हुए ओवैसी का भाषण सुना।

उन्होंने युवाओं में जोश भरते हुए कहा कि ओबीसी को तूफानों में भी हमें चिराग जलाना होगा चाहे यह तूफान कांग्रेस, जेएमएम या भाजपा की हो।

मुद्दसिर के मौत का जवाब वोट दें

उन्होंने कहा कि रांची हिंसा में मारे गए दो नौजवानों की मौत का जवाब वोट दें। बेरोजगारी के मुद्दे का जवाब बेरोजगारी (Unemployment) को लेकर भाजपा के खिलाफ वोट से जवाब दें और फौज बहाली यानी अग्निपथ योजना के खिलाफ अपना वोट भाजपा के खिलाफ दें।

कांग्रेस वाले आना नहीं देना चाहते थे

ओवैसी ने कहा कि वह चुनाव प्रचार के लिए रांची आ रहे थे लेकिन उन्हें बताया गया कि कांग्रेसी उन्हें आने नहीं देना चाह रहे थे। उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि झारखंड किसी की जागीर नहीं है कि जहां जब चाहे कोई उन्हें रोक सके।

उन्होंने यह भी कहा कि उनके जाने के बाद कई राजनीतिक दल उनके बयानों का कटाक्ष करेंगे, लेकिन उन्होंने जो कहा है वह सच कहा है और सरकार की सच्चाई को बताया है।

ओवैसी (Owaisi) ने रांची हिंसा में दो युवकों की गोली लगने के बाद हुई मौत को लेकर झामुमो राज्य सरकार और केंद्र सरकार को लापरवाह बताया।

उन्होंने कहा इस्लाम जिंदाबाद के नारे लगाने वालों को गोली मार दी जाती है, लेकिन मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की सरकार ने अभी तक उन गोली मारने वाले पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार तक नहीं किया है ना ही पुलिस पर कोई कार्यवाही तय की है।

अग्निपथ योजना सरकार वापस ले :

ओवैसी ने कहा कि फौजियों का सम्मान करना सरकार भूल गई है। 4 साल की नौकरी के बाद सरकार फौजियों को चौकीदार बनाने की योजना बनाई है।

उन्होंने कहा कि देश में जवानों को मजबूत बनाने की जरूरत है लेकिन सरकार पैसा बचाने में जुट गई है, जिसका सीधा असर देश के आंतरिक सुरक्षा पर पड़ेगा।

उन्होंने कहा कि हमें चीन और पाकिस्तान से डरने की जरूरत नहीं है, बल्कि अपने जवानों को मजबूत और काबिल बनाने की जरूरत है, जो जवान देश की सेवा करते हैं उन्हें पेंशन का भी हक मिलना चाहिए। सरकार को पैसे का बहाना बनाना छोड़ना होगा।

रांची में लगे पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे

इससे पहले सुबह बिरसा मुंडा एअरपोर्ट पर AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी के आगमन के दौरान उनके समर्थकों ने पाकिस्तान ज़िंदाबाद के नारे लगाए।

सुबह से ही एयरपोर्ट (Airport) के बाहर सैकड़ों की संख्या में ओवैसी के समर्थक जुटे रहें और पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाते रहे जिसके बाद कुछ लोगों द्वारा आपत्ति करने के बाद वे शांत हुए।a