झारखंड

रांची में धीरे-धीरे हालात हो रहे सामान्य, SSP ने कहा- हर हाल में निर्दोष को बचाया जाएगा

एसएसपी ने शहरवासियों से अपील की है कोई भी अफवाह न फैलाएं और जिला प्रशासन को साथ दें।

रांची: रांची के उपायुक्त छविरंजन और SSP सुरेंद्र झा (Chhavi Ranjan and SSP Surendra Jha) ने रविवार को संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में 10 जून को मेन रोड पर हुई हिंसक घटना को चिंताजनक बताया है।

उपायुक्त ने कहा कि भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस जो कदम उठाया, वह उचित है। उपायुक्त ने कहा कि धीरे-धीरे हालात सामान्य हो रहे हैं। इसे ध्यान में रखते हुए पाबंदियों में छूट दी जा रही है।

अब तक दो लोगों की मौत

उपायुक्त ने कहा कि इस हिंसक घटना में अब तक दो लोगों की मौत हुई है। दोनों का शांतिपूर्ण ढंग से अंतिम संस्कार हो चुका है।

उन्होंने शहर के लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। SSP ने कहा कि हिंसक घटना के दोषी बख्शे नहीं जाएंगे।

SIT गठित की गई है। तकनीकी टीम (Technical Team) भी जुटी है। दोषियों के खिलाफ हर हाल में कठोर कार्रवाई होगी।

शहर में 3500 से अधिक जवानों की तैनाती

SSP ने कहा कि आम लोगों की परिस्थितियों को देखते हुए इंटरनेट सेवा चालू कर दी गयी है लेकिन प्रशासन की सोशल मीडिया पर पैनी नजर है।

हिंसा और विवाद को बढ़ाने वाले पोस्ट करने वालों के खिलाफ तत्काल कार्रवाई (Action) की जाएगी। अब तक इस मामले में कुल 25 एफआईआर हुए हैं।

इसमें 22 लोग नामजद हैं और 100 अज्ञात लोगों पर FIR किया है। फिलहाल शहर में 3500 से अधिक एटीएस, आईआरबी, एसटीएफ और रेपिड एक्शन फोर्स जवानों की तैनाती है।

किसी भी परिस्थिति में निर्दोष को बचाया जाएगा

एसएसपी ने भरोसा दिलाया कि किसी भी परिस्थिति में निर्दोष को बचाया जाएगा। उन्हें किसी भी तरह की परेशानी नहीं आने दी जाएगी।

पुलिस की टीम वायरल सभी वीडियो को जांच कर रही है। उपद्रवियों को चिह्नित किया जा रहा है। SSP ने शहरवासियों से अपील की है कोई भी अफवाह न फैलाएं और जिला प्रशासन (District Administration) को साथ दें।

अभी भी धारा 144 लागू

उन्होंने कहा कि जिन थाना क्षेत्रों में निषेधाज्ञा लागू है, वहां चार से अधिक लोग बाहर नहीं निकलें। हिंदपीढ़ी, डेली मार्केट, लोअर बाजार, कोतवाली, चुटिया व डोरंडा थाना क्षेत्र में अभी भी धारा 144 लागू है।

शहर के अन्य थाना क्षेत्रों से निषेधाज्ञा (Injunction) हटाया गया है। उन्होंने बताया कि जिन थाना क्षेत्रों से निषेधाज्ञा हटाया गया है वहां पुलिस और प्रशासन की फिलहाल पैनी नजर रहेगी। इस मौके पर सिटी SP अंशुमन कुमार SDO दीपक दुबे (Deepak Dubey) सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।