झारखंड

चास हाट को 50 करोड़ की कंपनी बनाने का लक्ष्य: DC पाकुड़

पाकुड़: चास हाट फार्म प्रोड्यूसर कंपनी (Chas Haat Farm Producer Company) से जुड़े कृषि उद्यमियों व शेयर धारकों का गुरुवार को रविंद्र भवन में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया।

इसका उद्घाटन DC वरुण रंजन, वरिष्ठ वैज्ञानिक, आई.सी.ए.आर, रांची, डॉक्टर AK Jha, वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं हेड के.भी.के, महेशपुर डॉक्टर श्रीकांत सिंह, रीजनल हेड,अपेडा, कोलकता संदीप साहा, JSLPS DPM  प्रवीण मिश्रा ने संयुक्त रूप से किया।

चास हाट प्रोड्यूसर कंपनी द्वारा लिज्जत पापड़ भी बनाया जाएगा

मौके पर JSLPS DPM प्रवीण मिश्रा ने कृषक उत्पादन पर एक विस्तृत पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन दिया। उन्होंने किसान उत्पादक संगठन की उत्पत्ति से लेकर अब तक की विस्तृत जानकारी दी।

डीसी वरुण रंजन ने बताया कि ग्रामीण अर्थव्यवस्था को बदलने के लिए लोगों को आमदनी के साथ-साथ प्रोफेशनल और साइंटिफिक तरीके से खेती के गुर सिखाए जाएंगे।

जिले में गत एक वर्षों में चास हाट फार्म प्रोड्यूसर कंपनी बनायी गई और इसमें 500 दीदियों को शेयर होल्डर बनाया गया है।

DC ने बताया कि चास हाट प्रोड्यूसर कंपनी द्वारा लिज्जत पापड़ (Lijjat Papad) भी बनाया जाएगा। चास हाट फार्म प्रोड्यूसर कंपनी से जुड़े हुए कृषि उद्यमियों व शेयर धारकों को आने वाले वर्षों में 50 करोड़ टर्न ओवर का उन्होंने लक्ष्य दिया है।

सभी शेयर धारकों को इस मौके पर शेयर सर्टिफिकेट भी वितरित किये गए

साथ ही कहा कि 2025 तक देश का सबसे बड़ा चास हाट फार्म प्रोड्यूसर कंपनी बनाना है। साथ ही कहा कि सभी दीदियों के लिए कृषि के क्षेत्रों में अलग-अलग Action plan  तैयार करने के लिए चुनिंदा दीदियों को इस कार्यशाला में शामिल किया गया है।

मौके पर इस वर्ष अधिक से अधिक किसानों तक पहुंचाने का निर्देश भी दिया गया। कार्यशाला के दूसरे सत्र में किसानों द्वारा अपने अपने क्लस्टर की कार्य योजना भी प्रस्तुत की गई, जिसमें सभी पैनलिस्ट ने सुझाव भी दिए। सभी शेयर धारकों को इस मौके पर शेयर सर्टिफिकेट भी वितरित किये गए।

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker